बच्‍ची ने 5 रुपये की कुल्‍फी खाई, इलाज पर खर्च हो चुके चार लाख, हालत अब भी गंभीर

329
amritsar-common-man-issues,news,state,ice cream eating, Child girl burnt after eating ice cream, Out side kufi to kids, Child burnt after eating kulfi at Amritsar, Punjab Health, कुल्‍फी खाने से बच्‍ची झुसली, बाहर की कुल्‍फी खाना खतरनाक, पंजाब समाचार, Punjab CommonmanIuues, HPCommonManIsses, Punjab technology,News,National News Amritsar Punjab hindi news

बच्‍ची ने 5 रुपये की कुल्‍फी खाई, इलाज पर खर्च हो चुके चार लाख, हालत अब भी गंभीर

यदि आपका बच्चा भी बाहर की कुल्‍फी खाने की जिद करता है तो उसकी यह जिद सोच-समझकर पूरी करें। बाहर की कुल्फी खाना से अमृतसर की बच्ची के साथ बेहद अजीबो-गरीब घटना हुई। वह इससे झुलस गई।

अमृतसर, जेएनएन। यदि आपका बच्चा भी बाहर की कुल्फी खाने की जिद करता है और आप इसे पूरा करतेे हैं को भविष्य में सावधान हो जाएं। बच्चे की इस तरह की जिद को पूरा करने से पहले सोच-समझ लें। तरनतारन में बाहर की कुल्फी खाने से एक मासूम बच्ची के साथ जो हुआ उसे जानकर आपके होश उड़ जाएंगे। कुल्फी खाने के बाद यह एक बच्ची झुलस गई। सुनने में यह अजीब लगेगा, लेकिन है सच।

रेहड़ी पर बिकने वाली पांच रुपये की कुल्फी खाने से झुलस गया पांच साल की बच्ची का शरीर

रेहड़ी पर बिकने वाली कुल्फी ने इस बच्ची की जान जोखिम में डाल दी है। तरनतारन के गांव मरहाणा की रहने वाली पांच वर्षीय रामसंदीप कौर ने रेहड़ी से पांच रुपये की कुल्फी खरीदकर खाई थी। कुल्फी खाने के एक घंटे बाद उसकी त्वचा झुलसने लगी। ठीक वैसे ही जैसे आग लगने की सूरत में होता है। इस बच्ची के शरीर का ऐसा कोई भाग नहीं बचा, जहां की त्वचा झुलसी न हो।

अमृतसर के गुरुनानक देव अस्पताल की स्किन वार्ड में उपचाराधीन रामसंदीप कौर के ट्रीटमेंट में अब तक चार लाख रुपये खर्च हो चुके हैं। उसके पिता तरसेम सिंह ने बताया कि रामसंदीप कौर के ननिहाल गांव पंडोरी में है। वह रामसंदीप कौर को लेकर पंडोरी गए थे। यहां ममेरे भाई-बहनें के साथ वह बाहर खेल रही थी।

यह भी पढ़ें :-फैसला:11 साल की नाबालिग छात्रा से दुष्कर्म में आजीवन कारावास

उन्होंने बताया कि इसी दौरान रेहड़ी पर आइसक्रीम बेचने वाला व्यक्ति गुजरा। बच्चों ने आइसक्रीम खाने की जिद की, तो मैंने उन्हें पैसे दे दिए। रामसंदीप कौर ने आॅरेंज बार ली और ममेरे भाई-बहनों ने कप वाली आइसक्रीम खरीदकर खाई। कुछ देर बाद रामसंदीप घर आई और उसने कहा कि उसे नींद आ रही है। बाकी बच्चे बाहर खेल रहे थे, लेकिन रामसंदीप सो गई।

तरसेम सिंह ने बताया कि बच्ची एक घंटे बाद उठी तो उसकी हालत देख कर परिवार के लोगाें के होश उड़ गए। रामसंदीप के होठ व गाल की चमड़ी फट चुकी थी। इनमें खून भी बह रहा था। रामसंदीप दर्द से तिलमिलाने लगी। तरसेम के अनुसार उस वक्त तो हमें यही लगा कि शायद उसे किसी कीड़े ने काट लिया है। इसके बाद उसे गांव पंडोरी के निजी अस्पताल लेकर गए और वहां पहुंचने तक उसकी त्वचा जगह-जगह से फट चुकी थी।

तरसेम सिंह ने बताया कि वहां डॉक्टरों ने जांच की तो स्पष्ट हुआ कि रामसंदीप के शरीर में इंफेक्शन फैल गई है। डॉक्टरों ने उसे तत्काल अमृतसर के एक निजी अस्पताल में रेफर कर दिया। यहां प्राथमिक जांच में पुष्टि हुई कि बच्ची के शरीर में विषैला तत्व चला गया है, जिससे उसकी ऐसी हालत हुई। बहरहाल, रामसंदीप को गुरुनानक देव अस्पताल स्किन वार्ड में रखकर ट्रीटमेंट दिया जा रहा है।

स्किन वार्ड के इंचार्ज डॉ. एसके मल्होत्रा ने कहा कि बच्ची को स्किन इंफेक्शन हुई है। परिजनों के मुताबिक बच्ची ने कुल्फी खाई थी। बच्ची को असहनीय दर्द भी हो रहा है। आमतौर पर ऐसी अवस्था ड्रग रिएक्शन की वजह से होती है। ड्रग रिएक्शन का तात्पर्य सिर्फ दवा या नशा नहीं, किसी भी खाद्य वस्तु जिसमें केमिकल युक्त रंगों का प्रयोग किया जाता है, उसके सेवन से ड्रग रिएक्शन हो जाता है।

यह भी पढ़ें :-10 साल के मासूम के उतारे पूरे कपड़े और डाल दिया…

यह भी पढ़ें :-नग्न फोटोशूट, पैसे के लिए सेक्स भी किया इस अभिनेत्री ने

यह भी पढ़ें :- 10 साल पुराना बदला लेने के लिए केमिस्ट ने लेडी इंस्पेक्टर को दी दर्दनाक मौत


Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें फेसबुक पर ज्वाइन करें