Cyclone Fani: अब उत्तर प्रदेश और बिहार की ओर बढ़ रहा है फानी, जानें इससे जुड़ी 10 बड़ी बातें

85
news,national,FANI, 43 year old Severe storm Fani, landfall in Odisha Puri district, Cyclone Fani, Odisha coast, alert due to fani, cyclone fani, uttar pradesh, bihar, HPJagranSpecial, commonmanissue,News,National News national news hindi news

Cyclone Fani: अब उत्तर प्रदेश और बिहार की ओर बढ़ रहा है फानी, जानें इससे जुड़ी 10 बड़ी बातें

फानी की वजह से रेल हवाई यात्रा और सड़क यात्रा पुरी तरह से प्रभावित है। तूफान के चलते कई इलाकों में पेड़ उखड़ गए और भुवनेश्वर सहित कई स्थानों पर बनी झोपड़ियां तबाह हो गई है

नई दिल्ली चक्रवाती तूफान फानी ने शुक्रवार को ओडिशा में दस्तक दे दी है। पुरी तट से टकराने के साथ ही ओडिशा में तेज हवाएं और बारिश शुरू हो गई। 245 किमी प्रतिघंट की रफ्तार से हवाएं चल रही हैं। तूफान के चलते कई इलाकों में पेड़ उखड़ गए और भुवनेश्वर सहित कई स्थानों पर बनी झोपड़ियां पूरी तरह तबाह हो गई हैं। फानी की वजह से रेल, हवाई यात्रा और सड़क यात्रा पुरी तरह से प्रभावित है। अप्रैल के महीने में भारत के पड़ोसी समुद्री क्षेत्र में इस तरह का तूफान 34 साल बाद आया है। फिलहाल राज्य में राहत और बचाव की टीमें कार्य में जुट गई हैं। तूफान से निपटने के लिए प्रशासन ने पहले ही कई तैयारियां कर ली थी। वहीं तेज हवाओं के चलते पेड़ गिरने से गौरखपुर में एक सिपाही की मौत हो गई है।

जानें फानी से जुड़ी 10 बड़ी बाते आज सुबह से अब-तक तूफान ने मचाई कितनी तबाही

1 – जानकारी के मुताबिक, फानी अब उत्तर प्रदेश बिहार की और बढ़ रहा है। हालांकि मौसम विभाग ने उत्तर प्रदेश और बिहार में फानी को लेकर पहले ही अलर्ट जारी कर दिया था। चक्रवात फानी का असर पश्चिम बंगाल के तटवर्ती इलाकों दीघा, मंदारमनी, तालसारी, शंकरपुर और हल्दिया समेत समूचे पूर्व मेदिनीपुर जिलों में देखनें को मिल रहा है। हालांकि हवाओं की गति उतनी तेज नहीं है लेकिन पूरे जिले में बारिश हो गयी है।

2 – भारतीय नेवी के पी-8I और डॉर्नियर को दोपहर में फोनी के असर और उसके कारण हुए नुकसान का आकलन करने के लिए भेजा जाएगा। भुवनेश्‍वर में अभी तक 160 मिली लीटर से ज्‍यादा बारिश हो चुकी है। सबसे पहले शुक्रवार सुबह से ही कई जिलों में तेज हवाओं के साथ ही बारिश शुरू हो गई।  गृह मंत्रालय ने चक्रवाती तूफान फानी से निपटने के लिए हेल्प लाइन नंबर जारी किया। मंत्रालय द्वारा जारी हेल्प लाइन नंबर है 1938।

3 – गंजम जिले के डीएम ने मुताबिक, चक्रवात तूफान फानी से बचने के लिए अब तक 301460 लोगों को सुरक्षित स्थानों में भेज दिया गया  है। साथ ही 541 गर्भवती महिलिओं को सावधानी पूर्वक अस्पताल में पहुंचाया दिया गया है।

4 – 24 घंटे के लिए बंद कर दिया गया भुवनेश्वर एयरपोर्ट,कल शाम 6 बजे तक के लिए बंद रहेगा कोलकाता एयरपोर्ट।

5 – दक्षिण बंगाल में भी तूफान का असर देखा जा सकता है। यहां कई पर्यटक बुरी तरह फंस गए है। तूफान में फंसे पर्यटकों को निकालने के लिए दक्षिण बंगाल राज्य परिवहन निगम (SBSTC) ने दीघा से 50 बसों का संचालन शुरू किया है। सुबह पांच बजे से ही पर्यटकों को निकालने के लिए बसों का संचालन शुरू कर दिया था। रेल सेवाओं भी बाधित हो गई है। ईस्ट कोस्ट रेलवे ने आज 10 ट्रेनों को और रद कर दिया है। बता दें कि रेलवे ने इसके पहले 1 से 3 मई तक कुल 147 ट्रेनों को रद किया था।

6 – मौसम विभाग ने जारी की चेतावनी ओडिशा के तटीय क्षेत्रों से टकराने के साथ ही फानी तेज हवाओं और बारिश के साथ ही धीरे-धीरे उत्तर-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ेगा  । फिर धीरे-धीरे चक्रवाती तूफान फानी कमजोर हो जाएगा।

7 – पूर्वी भारत को अपनी चपेट में लेने के बाद अब पूर्वांचल की तरफ रूख कर लिया है।  गोरखपुर मंडल के पूर्वी जिले कुशीनगर में फानी ने सबसे पहले दस्‍तक दे दी है। सुबह होते ही फेने ने पूरे जिले को अपनी चपेट में ले लिया। कुशीनगर के अलावा देवरिया, महराजगंज, गोरखपुर, बस्‍ती, सिद्धार्थनगर और संतकबीर नगर में भी मौसम का मिजाज बदल गया। सिद्धार्थनगर में आंधी आने से थाने में पेड़ गिर गया जिससे एक सिपाही की मौत हो गई।

8 – मौसम विभाग के अनुसार चक्रवाती तूफान फानी के उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ सकता है और शनिवार शाम तक यह चक्रवाती तूफान बांग्लादेश में प्रवेश कर सकता है।

9 – पश्चिम बंगाल के दीघा में तेज हवाओं के साथ बारिश हो रही है। ओडिशा के पुरी तट पर भूस्खलन शुरू हो गया है।पारादीप मौसम विभाग के अधिकारी आर शुक्‍ला ने बताया कि लगभग सुबह 8 बजे शुरू हुए भूस्खलन की प्रक्रिया 2 घंटे में खत्म होने की उम्मीद है। इसके बाद इसके उत्तर-उत्तर पूर्व की ओर बढ़ने की संभावना है, जो ओडिशा के सभी जिलों को कवर करता हुआ पश्चिम बंगाल की ओर बढ़ेगा।

10 – हैदराबाद के मौसम विभाग के मुताबिक, ओडिशा के पुरी में 245 किमी प्रतिघंटे की रफ्तार से हवाएं चल रही हैं। चक्रवाती तूफान फानी से निपटने के लिए 13 नेवी एयरक्राफ्ट विशाखापत्तनम में तैयार खड़े हैं, जिससे समय रहते क्षति का आकलन और राहत कार्य पूरा हो सके।

यह भी पढ़ें :- बदला लेने के लिए डेटिंग ऐप पर डाली 10 छात्राओं की प्रोफाइल, आने लगे अश्लील मैसेज


Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें फेसबुक पर ज्वाइन करें