रोंगटे खड़े कर देने वाली तस्वीर…, बेड पर मिले सुसाइड के चौंकाने वाले सामान

36
aajtaklives news, news in hindi, hindi news, Badwani indore News elderly husband wife committed suicide-by consuming poison in hotel,Indore, Bardwani, Badwani Police, Ashish Chauhan, Palasia

61 वर्षीय बुजुर्ग पर महिला ने लगाया 7 साल की बेटी से रेप का केस, 60 वर्षीय पत्नी के घर छोड़ बुक कराया होटल और दोनों ने कर लिया सुसाइड

बड़वानी/इंदौर। इंदौर में झूलाघर चलाने वाले बुजुर्ग दंपति ने बड़वानी के एक होटल में बुधवार को कीटनाशक इंजेक्शन लगाकर आत्महत्या कर ली। बीमा नगर निवासी 61 वर्षीय गुणवंत भिड़े और उनकी पत्नी 60 वर्षीय वंदना के शव आनंद पैलेस होटल के कमरा नं. 202 में मिले। बेड पर सुसाइड के चौंकाने वाले सामान जैसे- सिंरिज, कीटनाशक, इंसुलिन की शीशी मिले हैं। भिड़े परिवार के वकील सुनील रामचंदानी ने बताया, झूलाघर संचालक भिड़े का बच्चों को डांटने की बात पर 17 जनवरी को एक महिला से विवाद हुआ था। महिला ने उन्हें पाॅक्सो एक्ट में फंसाने की धमकी दी थी। 18 जनवरी को पति-पत्नी लापता हो गए। इसी दिन महिला की 7 साल की बेटी की शिकायत पर पुलिस ने भिड़े के खिलाफ पाॅक्सो एक्ट में केस दर्ज कर लिया। हालांकि बच्ची की मेडिकल में कुछ नहीं निकला।

यह भी पढ़ें : दर्द से 24 घंटे बेहोश थी लड़की, होश में आते ही रोने लगी…

मास्टर की से खोला होटल के कमरे का दरवाजा, बेड पर पड़े थे दोनों के शव

होटल के रिकाॅर्ड अनुसार, कमरा लेने के दौरान भिड़े ने 500 रुपए जमा कराए थे। होटल संचालक ने बुधवार दोपहर करीब 12.30 बजे कर्मचारी को रुपए लेने के लिए भेजा था। लेकिन दरवाजा नहीं खोलने पर पुलिस को बुलाया गया। इसके बाद मास्टर की से दरवाजा खोला। बेड पर दोनों के शव मिले थे। होटल से प्राप्त जानकारी अनुसार दंपति ने 21 जनवरी को आखिरी बार खाना लिया था। टीआई राजेश यादव ने बताया- होटल में उन्होंने दोपहर 12 बजे पानी लिया था।

वकील ने जताई सुसाइड नोट दबाने की आशंका

रामचंदानी ने आशंका जताई है कि इंदौर में पुलिस के खिलाफ आक्रोश बढ़ने से बड़वानी पुलिस दंपति का सुसाइड नोट दबा सकती है, क्योंकि पलासिया थाना पुलिस पर एकतरफा जांच के आरोप लग रहे हैं।

यह भी पढ़ें : पौने एक बजे आखिरी मैसेज लिख छात्रा ने खत्म कर ली…

इंदौर के पलासिया थाना पर परिजन ने किया हंगामा

भिड़े दंपति के मौत के बाद परिजनों ने गुरुवार शाम को इंदौर के पलासिया थाने पर हंगामा किया। परिजन ने पुलिस पर लापरवाही बरतते हुए बिना जांच कर केस दर्ज करने का आरोप लगाया। साथ ही गुमशुदगी की शिकायत दर्ज कराने के बाद भी उन्हें नहीं तलाशा गया वरना वो आज जीवित होते। दंपति के दामाद आशीष चौहान ने बताया कि ससुर गुणवंत पर एक महिला ने गलत आरोप लगाया था। इससे परेशान होकर उन्होंने आत्महत्या कर ली। बुजुर्ग दंपति की गुमशुदगी की शिकायत हमने थाने पर की थी, लेकिन पुलिस ने लापरवाही पूर्वक रवैया बरतते हुए दोनों की तलाश नहीं की। पुलिस उनकी तलाश कर लेती तो वो आज जिंदा होते।

यह भी पढ़ें : युवक को सरेआम कुल्हाड़ी से काट डाला, 21 सेकंड में किए…

यह भी पढ़ें : शहीद की बेटी ने कहा- मम्मी रो मत…पापा ने देश के…

यह भी पढ़ें : पति जो चाहते हैं मैं उन्हें नहीं दे पा रही…सुसाइड नोट में लिखीं ऐसी लाइन


Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें फेसबुक पर ज्वाइन करें