बिहार में बम का गोला बनने से बची बोलेरो, बाल-बाल बचे रेल यात्री

0
111
aajtaklives hindi news

गोपालगंज [जेएनएन]। बिहार में एक बड़ी रेल दुर्घटना तब बची, जब रसोई गैस सिलेंडर लदी बोलेरो रेल क्रॉसिंग पर ट्रेन से टकरा गई। ट्रेन में फंसी बोलेरो करीब पांच सौ मीटर तक घिसटती चली गई। सौभाग्‍य से सिलेंडर नहीं फटे, अन्‍यथा बम का गोला बनी बोलेरो से ट्रेन में भारी क्षति की आशंका से इनकार नहीं किया जा सकता था। घटना पूर्वोत्तर रेलवे के छपरा-थावे रेलखंड पर एक पैसेंजर ट्रेन के साथ बीते दिन हुई।

जानकारी के अनुसार दिघवा दुबौली तथा त्रिविक्रमदेव नगर हॉल्ट के बीच बनकटी रेलवे क्राॅसिंग पर थावे-छपरा पैसेंजर ट्रेन एक बोलेरो गाड़ी से टकरा गई। बोलेरो रेल क्रॉसिंग पार कर रही थी कि ट्रेन की चपेट में आ गई। टक्कर के बाद ट्रेन बोलेरो को पांच सौ मीटर तक घसीटती चली गई। हालांकि, बोलेरो में सवार तीन लोगों ने कूद कर अपनी जान बचा ली।

हादसे के बाद उग्र लोगों ने ट्रेन पर पथराव शुरू कर दिया। पथराव में ट्रेन के मुख्य ड्राइवर तथा सहायक ड्राइवर घायल हो गए। हादसे के बाद इस रूट पर तीन घंटे तक ट्रेनों का परिचालन ठप रहा। क्षतिग्रस्त बोलेरो से रसोई गैस का तीन सिलेंडर बरामद किए गए। ऐसे में सवाल यह है कि अगर से सिलेंडर फट गए होते तो क्‍या होता। विस्‍फोट से बम बनी बोलेरो से ट्रेन को भारी क्षति पहुंचजी। अगर ट्रेन डिरेल हो जाती तो कई यात्रियों की जान भी जा सकती थी।