गाजीपुर रेप केस में नया खुलासा, हड्डी की जांच में बालिग निकला आरोपी

0
97
Ghazipur rape case

दिल्ली के गाजीपुर से अगवा 10 साल की बच्ची के साथ गाजियाबाद के एक मदरसे में बलात्कार के मामले में अब एक नया मोड़ आ गया है। पुलिस ने बलात्कार के सिलसिले में गिरफ्तार किए गए एक आरोपी द्वारा खुद को नाबालिग बताने पर उसकी सही उम्र का पता लगाने के लिए बोन ओसिफिकेशन टेस्ट कराया था, जिसमें उसके बालिग होने के संकेत मिले हैं।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि रिपोर्ट आज किशोर न्याय बोर्ड को सौंप दी गई है और इस मामले की सुनवाई बुधवार को होगी।

उन्होंने बताया कि आरोपी के परिवार वाले ऐसा कोई दस्तावेज पेश नहीं कर सके जिससे पुलिस को यह पता लागाने में आसानी हो कि उसकी उम्र 18 साल से कम है। इसके बाद पुलिस द्वारा आरोपी का बोन ओसिफिकेशन टेस्ट (हड्डी की जांच) कराया गया। अधिकारी ने बताया, बोन ओसिफिकेशन टेस्ट रिपोर्ट में उसके बालिग होने के संकेत मिले हैं।

Ghazipur rape case

इस सप्ताह की शुरुआत में पुलिस ने मदरसे में लड़की की उपस्थिति के बारे में कथित तौर पर जानकारी होने को लेकर मदरसा के मौलवी गुलाम शाहिद को भी गिरफ्तार किया था।

लड़की के पिता ने 21 फरवरी को पुलिस को सूचना दी थी कि बाजार जाने के बाद वह पूर्वी दिल्ली के गाजीपुर से लापता है। पुलिस ने बताया कि इसके बाद दिल्ली पुलिस की टीम ने 22 अप्रैल को लड़की को मदरसा से ढूंढ निकाला और एक कथित नाबालिग को गिरफ्तार कर लिया। पीड़िता ने 23 अप्रैल को मजिस्ट्रेट के सामक्ष अपना बयान दर्ज कराया। उसने बताया कि आरोपी उसे लेकर अपने दोस्तों से मिलने मदरसा गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here