महिला के पति ने कहा- 3 घंटे डिलीवरी चली थी, उसी दौरान खेल हुआ…

69
bihar,supaul news, video news, Hd news, womans kidney missing after surgery of delivery, महिला की किडनी गायब, किडनी,Manoj Kumar, Bihar, Supaul

डिलीवरी के 6 महीने बाद महिला की तबियत रहने लगी खराब, डॉ. ने कहा- दवाई काम नहीं कर रही तो अल्ट्रासाउंड करवा लो…, रिपोर्ट देख पति के साथ डॉ. भी SHOCKED

सुपौल, बिहार डिलीवरी के ऑपरेशन के दौरान महिला की एक किडनी निकालने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। मामले का खुलासे तब हुआ जब 4 नवंबर को सुपौल जिले के सदर थाना क्षेत्र निवासी मनोज चौधरी अपनी पत्नी आशा की तबीयत खराब होने पर दूसरे डॉक्टर को दिखाने गया। अल्ट्रासाउंड कराने पर पता चला कि आशा की दाईं किडनी गायब है। रिपोर्ट देखकर मनोज और डॉक्टर दोनों शॉक्ड थे। किसी को समझ नहीं आ रहा था कि अचानक किडनी गायब कैसे हो गई। डॉक्टर ने पूछा डिलीवरी नॉर्मल हुई थी या ऑपरेशन से।महिला के पति ने बताया- तीन घंटे ऑपरेशन चला था, उसी दौरान यह खेल खेला गया होगा। मनोज ने संबंधित अस्पताल के संचालक और डॉक्टर पर कार्रवाई के लिए डीएम, एसपी और सीएस को आवेदन दिया था। इस मामले में एसपी मृत्यंजय कुमारी चौधरी का कहना है कि मामला जुलाई 2017 का है। आवेदन मिला है। इसकी जांच कराई जा रही है। तहकीकात के बाद अगर कोई दोषी पाया जाता है तो उस पर ठोस कार्रवाई की जाएगी।

यह भी पढ़ें : 4 नाबालिगों ने 3 साल की बच्ची से किया गैंगरेप, मोबाइल…

डॉ. की बात सुन फूल गए पति के हाथ-पांव…

महिला के पति के मुताबिक, मैरी गोल्ड रौनक राज अस्पताल में ऑपरेशन से 20 जुलाई 2017 को एक बच्ची पैदा हुई थी। ऑपरेशन से पहले 23 जून को क्लीनिक की डॉ. शीला राणा ने उनकी पत्नी का अल्ट्रासाउंड कराया था तब दोनों किडनियां मौजूद थीं, लेकिन डिलीवरी के कुछ दिन बाद पत्नी की तबीयत खराब रहने लगी। कई जगह दिखाया लेकिन कुछ आराम नहीं हुआ। पत्नी को दूसरे डॉक्टर के पास ले गया। उन्होंने सारी दवाइयां देखकर कहा, अगर दवाई से आराम लग रहा है तो एक बार इनका अल्ट्रासाउंड करवा लो। डॉक्टर की सलाह पर अल्ट्रासाउंड करवाया और जब रिपोर्ट आई तो मनोज के साथ डॉक्टर भी हैरान थे। डॉक्टर ने कहा- इनकी तो एक किडनी ही गायब है। यह सुनकर मनोज के हाथ-पांव फूल गए। मनोज ने बताया, प्रसव के लिए लगभग साढ़े तीन घंटे तक ऑपरेशन चला था। मुझे शक है कि पत्नी की किडनी उसी दौरान निकाल ली गई।

इस मामले में मैरी गोल्ड रौनक राज अस्पताल के संचालक डॉ. मनोज कुमार का कहना है कि आरोप पूरी तरह से झूठा है। इस संबंध में सीएस डॉ. घनश्याम झा ने बताया कि मामले की जांच कराई जा रही है। 22 जनवरी तक जांच रिपोर्ट देने को कहा गया है।

यह भी पढ़ें : 4 नाबालिगों ने 3 साल की बच्ची से किया गैंगरेप, मोबाइल…


Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें फेसबुक पर ज्वाइन करें