भाई बोला- 4 लाख के लिए दी ऐसी मौत कि बहन का चेहरा भी न देख सका

94
daughter-in-law murder, dowry case, in-laws Motihari news, Bihar crime news

मोतीहारी (बिहार)। शनिवार को ससुरालवालों ने विवाहिता की हत्या कर सुराग मिटाने के लिए उसके शव को जला दिया। महिला का अधजला शव बरामद कर परिजन थाना पहुंच गए। मामला मोतिहारी जिले के बंजरिया थाना क्षेत्र का है। पुलिस ने अधजले शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया।

यह है मामला
घटना के बारे महिला के भाई मनु कुमार ने बताया- बहन की शादी 2012 में नवल महतो से हुई थी। शादी के दौरान हैसियत से ज्यादा दान-दहेज दिया था। इसके बाद भी ससुराल वाले लगातार दहेज की मांग कर रहे थे और उसे प्रताड़ित कर रहे थे। ससुरालवालों ने कल उसकी हत्या कर शव को छुपाकर जला दिया। सुराग मिटाने के लिए ससुरालवालों ने बहन के फरार होने की गलत सूचना दी। जब पहुंचे तो संगीता का कोई सुराग नहीं मिल रहा था।

कैसे मिली जानकारी
शनिवार शाम 7 बजे महिला का पति नवल महतो ने फोन कर बताया कि उसकी बहन संगीता घर छोड़ कर कहीं चली गई है। इसके बाद वह रिश्तेदारों को फोनकर उसकी जानकारी लेने लगा। कहीं जानकारी नहीं मिलने पर वे बहन के ससुराल आ गए। जहां महिला की सास व दो बच्चे बैठे थे। पूछताछ करने पर उनलोगों ने बताया कि संगीता कल शाम से गायब है। हमने देखा कि बहन के गहने उसकी सास छुपा रही है। इसी से हमें शक हुआ। इसी बीच पता चला कि बाइपास में महिला का अधजला शव पड़ा है। इसके बाद हम वहां पहुंचे तो महिला के शव की खोपड़ी, हाथ की हड्‌डी व चूड़ी पड़ी थी।

परिजनों ने चूड़ी से की अधजले शव की पहचान
इसके बाद परिजनों ने चूड़ी से महिला की पहचान की और रविवार देर शाम महिला की अधजली खोपड़ी, हड्डी व चूड़ी लेकर थाना पहुंचे। पुलिस के सामने परिवार ने सारे सबूत रख दिए। यह देख पुलिस हैरान रह गई। खोपड़ी-हड्डी देखकर परिजनों को फटकार लगाते हुए पुलिस ने कहा- यह सब क्या उठाकर लाए हो। इसके बाद भाई ने पूरी कहानी बताई, तब जाकर पुलिस ने आरोपी ससुराल वालों के खिलाफ मामला दर्ज किया। परिजनों ने बताया कि उसका दामाद नवल 4 लाख रुपया व मोटरसाइिकल की मांग कर रहा था। न देने पर हत्या कर दी।