कंटेनर में जा घुसी कार, स्पॉट पर पिता-बेटी समेत 3 की मौत

47
road accident, uttar pradesh, mau news, 3 killed and 3 injured in a road accident on nh2, father daughter killed in a road accudent

औरंगाबाद (बिहार)। हाईवे पर अचानक ब्रेकर मिलने से एक तेज रफ्तार कार उछल कर संतुलन खो दिया और सड़क पर खड़े एक कंटेनर से जा टकराई। इससे पिता-बेटी समेत तीन लोगों की मौत घटनास्थल पर हो गई। जबकि पत्नी, बेटा व मां गंभीर रूप से जख्मी हैं। घटना शहर के कामा बिगहा मोड़ समीप एनएच दो की है। मृतकों में उतर प्रदेश के मऊ जिले के इटौली गांव निवासी 40 वर्षीय जय सिंह, 14 वर्षीय उनकी बेटी कृति सिंह व बलिया जिले के 65 वर्षीय उसके मामा दीनानाथ सिंह शामिल हैं। जबकि घायलों में जय सिंह की पत्नी लक्ष्मी देवी, बेटा विशाल सिंह व मां शुभावती देवी शामिल हैं। सभी घायलों को सदर अस्पताल में प्राथमिक उपचार के बाद गया मगध मेडिकल अस्पताल रेफर कर दिया गया। जहां से उन्हें एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। इलाज के बाद सभी की छुट्टी कर दी गई है।

100 से ज्यादा स्पीड में थी ओमनी कार
जय सिंह झारखंड के धनबाद से अपने पूरे परिवार के साथ अपनी मारुती ओमनी कार से यूपी के मऊ लौट रहे थे। उनके छोटे भाई संजय सिंह की पत्नी छाया देवी का निधन इलाज के दौरान वाराणसी में हो चुका था। अंतिम संस्कार में भाग लेने पूरे परिवार के साथ वे जा रहे थे। कार जय सिंह खुद चला रहे थे और कार 100 से ज्यादा की स्पीड थी। वे जल्द पहुंचना चाहते थे। इसी दौरान औरंगाबाद शहर के कामा बिगहा मोड़ के पास ब्रेकर आ गया।

एनएचआई के पैट्रोलिंग वाहन ने घायलों को बाहर निकाला
एनएचएआई का पेट्रोलिंग वाहन हाईवे से गुजर रही थी। जिसकी नजर कार पर पड़ी। इसके बाद एनएचएआई के पेट्रोलिंग दस्ता ने क्रेन मंगवाई। फिर क्रेन की मदद से कंटेनर के अंदर घुसे कार को बाहर निकाला गया। जिससे घायलों व शव को बाहर निकाला। नगर थाना पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। इसके बाद सभी को सदर अस्पताल भेजा गया। जहां से डॉक्टरों ने घायलों को नाजुक हालत में गया रेफर कर दिया।

कंटेनर के ड्राइवर के खिलाफ एफआईआर दर्ज
घटना के बाद मृतक के बड़े भाई विजय सिंह ने नगर थाना में सड़क पर खड़े कंटेनर ड्राइवर पर एफआईआर दर्ज कराया है। दर्ज एफआईआर में कहा गया है कि हाईवे पर कंटेनर के खड़ा रहने के कारण ही यह हादसा हुआ है।

यूपी सरकार देगी पीड़ित परिवार को मुआवजा
सदर एसडीओ डॉ. प्रदीप कुमार ने बताया कि मृतकों में सभी उतर प्रदेश के रहनेवाले हैं। नियम के मुताबिक यूपी सरकार की उन्हें आपदा राहत के तहत मुआवजा देगी।