अच्छी खबर: तीन करोड़ घरों को मुफ्त गैस कनेक्शन देने की तैयारी

34
Free gas connections, free gas cylinders, domestic gas, gas cylinder price, subsidy in gas cylinders, petroleum ministry, Prime Minister Ujjwala plan, BPL family, SC ST, extremely backward class,मुफ्त गैस कनेक्शन, मुफ्त गैस सिलेंडर, घरेलू गैस, गैस सिलेंडर के दाम, गैस सिलेंडर में सब्सिडी, पेट्रोलियम मंत्रालय, प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना, बीपीएल परिवार, एससी एसटी, अत्यंत पिछड़ा वर्ग, जंगल में रहने वाले, ,Hindi News, News in Hindi, Hindustan

वह दिन ज्यादा दूर नहीं है, जब देश के हर घर की रसोई में गैस का चूल्हा होगा। केंद्र सरकार दिसंबर 2019 तक हर घर में गैस पहुंचाने की तैयारी कर रही है। लक्ष्य तय वक्त से पहले हासिल किया जाए, इसके लिए पेट्रोलियम मंत्रालय प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों की पात्रता का दायरा बढ़ाने की तैयारी कर रहा है। इसके तहत बाकी बचे सभी घर को मुफ्त रसोई गैस कनेक्शन दिया जा सकता है। इस वक्त देश में करीब 25 करोड़ गैस कनेक्शन हैं।

पेट्रोलियम मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि दिसंबर 2019 तक सभी घरों में रसोई गैस पहुंचाई जा सकती है। उन्होंने कहा कि 2011 की जनगणना के मुताबिक, देश में 24.7 करोड़ घर (हाउसहोल्ड) थे। अगले साल दिसंबर तक देश में कुल हाउसहोल्ड की संख्या करीब 28 करोड़ होगी। ऐसे में इस अवधि के दौरान लगभग तीन करोड़ गैस कनेक्शन दिए जाने हैं।

मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा कि प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के लाभार्थी की पात्रता का दायरा बढ़ाया जा सकता है। क्योंकि 2011 की जनगणना के आधार पर सभी बीपीएल परिवार, एससी/एसटी, अत्यंत पिछड़ा वर्ग, जंगल में रहने वाले परिवार, अंत्योदय अन्न योजना के लाभार्थी और प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) को इसमें शामिल किया जा चुका है। उज्ज्वला के तहत अभी पांच करोड़ 80 लाख कनेक्शन दिए हैं।

ग्राम स्वराज अभियान के तहत सरकार ने पिछले साल 50 हजार गांवों तक सरकारी योजनाओं को पहुंचाने के लिए विशेष अभियान चलाया था। एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि उज्ज्वला योजना के तहत गैस कनेक्शन देने के बाद गांव में औसतन ऐसे दस फीसदी घर बचते हैं, जिनके पास रसोई गैस नहीं है।

दायरा बढ़ाने की योजना
– 80 फीसदी लाभार्थी उज्ज्वला योजना के तहत साल में चार बार सिलेंडर खरीदते हैं।

– सभी घरों तक कवर करने के लिए 03 करोड़ कनेक्शन जारी करने होंगे।

– एक उपभोक्ता औसतन एक साल में आठ गैस सिलेंडर इस्तेमाल करता है