अंगुली में सेफ्टी पिन लगाकर निकाला खून और उसी से लिखा सुसाइड नोट

70
aajtaklives news, news in hindi, hindi news, crime news in hindi,Gwalior News 12th student commits suicide by hanged

खाना खाकर सोने गई 12वीं की छात्रा, सुबह 9 बजे तक नहीं आई बाहर..,बुलाया लेकिन नहीं मिला रिस्पॉन्स, खिड़की तोड़कर घुसे माता-पिता और बहन अंदर का सीन देख चीख पड़े

पिता बोले, वो शख्स कौन है जिसकी वजह से मेरी बेटी मरी है, मैं नहीं जानता उसके बेटी से क्या कनेक्शन था

ग्वालियर। कक्षा 12वीं की छात्रा ने खुदकुशी कर ली। छात्रा ने खुदकुशी करने से पहले अपनी अंगुली में सेफ्टी पिन चुभोई। अंगुली से निकले खून से सुसाइड नोट लिखा। फिर अपने दुपट्टे से फांसी लगाकर जान दे दी। छात्रा ने सुसाइड नोट में विष्णु कंसाना नाम के युवक को मौत का जिम्मेदार बताया है। घटना ग्वालियर के थाटीपुर क्षेत्र की है। पुलिस ने सुसाइड नोट और छात्रा का मोबाइल जब्त कर लिया है। पुलिस पता लगा रही है कि जिस युवक को उसने मौत का जिम्मेदार बताया है, वह कौन है?

यह भी पढ़ें : लड़की के साथ 1 साल तक रोज दरिंदगी करते रहे दो लोग

उंगली में सेफ्टी पिन लगाकर निकाला खून और उसी से लिखा सुसाइड नोट
थाटीपुर स्थित सुरेश नगर निवासी राजेन्द्र सिंह रावत एक निजी फैक्टरी में वर्कर हैं। उनकी बड़ी बेटी राशी उम्र 18 साल कक्षा 12वीं की छात्रा थी, जबकि छोटी बेटी कक्षा-10 में पढ़ती है। शनिवार रात को राशी और उसकी बहन ने खाना खाया। इसके बाद राशी सोने चली गई, जिसमें उसकी दादी सोती थीं। शनिवार को दादी दूसरे कमरे में सो गई थी। अंदर से उसने दरवाजा बंद कर लिया। सुबह करीब 9 बजे तक जब वह बाहर नहीं आई तो परिजन उठाने गए। काफी देर दरवाजा खटखटाया लेकिन दरवाजा नहीं खुला। परिजन ने खिड़की का दरवाजा तोड़कर देखा तो राशी फांसी के फंदे से लटकी हुई थी। चीख-पुकार सुनकर पड़ोसी भी आ गए। तुरंत पुलिस को सूचना दी गई। थाटीपुर थाना पुलिस ने कमरे की तलाशी ली तो सुसाइड नोट मिला। छात्रा की एक अंगुली पर खून लगा था। पास में ही पिन पड़ी थी। छात्रा ने अपने खून से ही सुसाइड नोट लिखा था। बिस्तर पर ही मोबाइल मिला। मोबाइल में पैटर्न लॉक था तो मोबाइल खुल नहीं सका।

पुलिस की जांच के दो एंगल
पुलिस को आशंका है कि छात्रा को कोचिंग, ट्यूशन आते जाते परेशान करता होगा, जिससे परेशान होकर उसने आत्महत्या कर ली। या फिर छात्रा की उससे दोस्ती रही होगी और किसी कारण झगड़े के बाद उसने आत्महत्या की होगी। इन दोनों ही एंगल पर पुलिस जांच कर रही है। पुलिस छात्रा की कॉल डिटेल भी निकलवाएगी, जिससे यह पता लग सके कि उसने आखिरी समय किससे बात की।

पिता बोले, नहीं जानते कौन हैं विष्णु
छात्रा के पिता राजेन्द्र का कहना है कि उन्हें नहीं पता कि विष्णु कंसाना कौन है। उन्हें यह भी नहीं पता कि विष्णु कंसाना का उनकी बेटी से क्या कनेक्शन था। जबकि पुलिस को प्रारंभिक पड़ताल में पता लगा है कि परिजनों को उसके बारे में पता है। अभी परिजनों के बयान होना बाकी हैं।

पुलिस की जांच
छात्रा ने पूरे कागज पर खून से मोटे अक्षरों में सिर्फ यह दो लाइन ही लिखी हैं। अब पुलिस का फोकस विष्णु कंसाना पर है। जिससे यह स्पष्ट हो सके कि उसका और छात्रा का क्या कनेक्शन था।

यह भी पढ़ें : आबरू बचाने रोती-गिड़गिड़ाती, बेटी की उम्र का हवाला देती फिर भी…

यह भी पढ़ें : ये है वो 7 ऐसी फिल्म जिसमे एक्ट्रेस ने साथी कलाकार के साथ कैमरे के सामने किया सेक्स…

यह भी पढ़ें : पहले गैंगरेप किया फिर जंगल में फेंक भाग गए, होश आने…

यह भी पढ़ें : एक लड़का मुझे भरोसे में ले कर काफी समय से सैक्स…


Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें फेसबुक पर ज्वाइन करें