सिर्फ एक चीज न खाने की दी सलाह तो कुछ ही महीने में प्रेग्नेंट हो गई महिला

33
aajtaklives news, hindi news, health news in hindi,health solution in hindi,Infertile mum has miracle baby after simple change helps her get pregnant,West Midlands, England, Polycystic Ovary Syndrome

कई कोशिश के बाद भी प्रेग्नेंट नहीं हो पा रही थी महिला, डॉक्टर्स बोले- ट्रीटमेंट करना पड़ेगा, वजन कम करो

वेस्ट मिडलैंड्स. इंग्लैंड में रहने वाली एक महिला को खास बीमारी की वजह से लग रहा था कि वो कभी मां नहीं बन पाएगी। लेकिन अपनी डाइट से एक चीज हटाने के बाद वो ना केवल मां बन गई, बल्कि उसे किसी ट्रीटमेंट की जरूरत भी नहीं पड़ी। दरअसल ट्रीटमेंट शुरू करने से पहले डॉक्टर ने उससे अपना वजन कम करने के लिए कहा था। जो बढ़ते बढ़ते 90 किलो तक पहुंच गया था। इसके बाद महिला ने अपनी डाइट से एक खास चीज हटा दी, जिसकी बदौलत कुछ महीनों बाद ही वो मां बन गई। खास बात ये है ये सबकुछ बिना ट्रीटमेंट शुरू किए हो गया। अब वो अपने मां बनने का क्रेडिट अपनी डाइट से हटाई गई खास चीज यानी शक्कर को दे रही है। इस दौरान उसने मीठा खाना बिल्कुल बंद कर दिया था।

शक्कर छोड़ने के बाद बदली महिला की जिंदगी…

– ये स्टोरी इंग्लैंड के ब्रियरली हिल में रहने वाली महिला क्लो होडसन (25) की है। दो साल पहले तक वो मां नहीं बन पा रही थी। जांच से पता चला कि क्लो को पॉलिसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम (PCOS) नाम की एक बीमारी हुई है, जिसकी वजह से उसे गर्भ नहीं ठहर पा रहा था।
– कई कोशिशों के बाद भी जब वो मां नहीं बन सकी तो क्लो और उसके हसबैंड जोनाथन ने फर्टिलिटी ट्रीटमेंट लेने का फैसला किया। जब वे क्लिनिक पहुंचे तो ट्रीटमेंट शुरू करने से पहले डॉक्टर ने क्लो को अपना वजन कम करने के लिए कहा। उस वक्त क्लो का वजन बढ़कर करीब 90 किलो पहुंच चुका था।

मालिक ने पीड़िता के साथ सेक्स के लिए 70 लोगों को…

– डॉक्टर की सलाह मानते हुए क्लो ने कई तरह से वजन घटाने की कोशिशें शुरू कर दीं। क्लो की सबसे बड़ी कमजोरी चाय और शक्कर थी। वो दिनभर में 5-6 कप चाय पीती थी और इस दौरान शक्कर के 12 क्यूब्स इस्तेमाल कर लेती थी। इसी वजह से उसने सबसे पहले अपनी डाइट से शक्कर और मीठे को ही हटा दिया।
– इसके अलावा वजन कम करने के लिए उसने ज्यादा से ज्यादा घर का खाना शुरू कर दिया। साथ ही कुछ एक्सरसाइज करना भी शुरू कर दिया। इस दौरान उसने बाहर खाना खाना भी बेहद कम कर दिया। आठ महीनों तक लगातार कोशिश के बाद उसने साढ़े नौ किलो वजन कम कर लिया।
– इसके बाद क्लो ने जब प्रेग्नेंसी टेस्ट किया तो वो पॉजिटिव आया। क्लो के मुताबिक उसे इस बात पर यकीन ही नहीं हो रहा था कि बिना ट्रीटमेंट के मैं मां बनने वाली हूं। वो दौड़कर हसबैंड के पास पहुंची और उसे एकबार फिर टेस्ट करने के बारे में पूछा, लेकिन इसकी जरूरत नहीं पड़ी।
– क्लो अब अपने मां बनने का क्रेडिट अपने कम हुए वजन और डाइट से हटाई गई शक्कर को दे रही है। उसके मुताबिक अगर मैंने शक्कर खाना बंद ना किया होता तो पता नहीं मां बनने के लिए मुझे और कितना इंतजार करना पड़ता।

सालों से पीरियड्स की प्रॉब्लम से जूझ रही थी महिला

– क्लो के मुताबिक 14 साल की उम्र से ही उसे अनियमित पीरियड्स आते थे और इस दौरान उसे काफी तकलीफ भी होती थी। लेकिन इसके लिए उसने कभी किसी डॉक्टर को नहीं दिखाया। लेकिन जब प्रेग्नेंसी में दिक्कतें आईं तो उसे डॉक्टर के पास जाने की जरूरत पड़ गई।
– महिला का कहना है कि जब मुझे PCOS की बीमारी का पता चला था तो मैं शॉक्ड रह गई थी। इसके बाद रातों को मैं रोती रहती थी, क्योंकि मुझे लगता था कि मैं कभी मां नहीं बन पाउंगी।
– दो साल के लंबे इंतजार के बाद जुलाई 2018 में क्लो ने एक बेटे को जन्म दिया। जिसका नाम उसने जोएल रखा। इसके जन्म को क्लो एक चमत्कार से कम नहीं मानती।

मालिक ने पीड़िता के साथ सेक्स के लिए 70 लोगों को…


Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें फेसबुक पर ज्वाइन करें