जान बचाने के लिए डॉक्टर्स को निकालना पड़ा सिर का आधा हिस्सा

0
79

खबर जरा हटके डेस्क. आजकल की लाइफस्टाइल में एनर्जी ड्रिंक का इस्तेमाल बहुत आम बात है लेकिन ऑस्टिन के केस के पता चला कि इनका असर इतना खतरनाक भी हो सकता है। ऑस्टिन भी अपने बिजी शेड्यूल में तकरीबन रोज ही कई एनर्जी ड्रिंक लेते थे। पर एक दिन इन ड्रिंक्स के चलते उसकी जिंदगी में तूफान आ गया। उसे ब्रेन हैमरेज हुआ और सर्जरी कर उसे मौत के मुंह में जाने के बचाया गया। ये सब उस मौके पर हुआ जब उसकी पत्नी की प्रेग्नेंसी 9वें महीने में थी।

ड्रिंक्स के असर से था अनजान

ऑस्टिन की वाइफ ब्रियाना ने फेसबुक पर इस घटना को शेयर करते हुए अपनी और अपने हसबैंड के स्ट्रगल की पूरी कहानी बताई थी। ब्रियाना ने बताया था कि ऑस्टिन ने जब लंबे घंटों तक काम करना शुरू किया तो रोज एनर्जी ड्रिंक लेनी शुरू कर दी। पर वो इस बात से अनजान थे कि इसका असर खतरनाक हो सकता है।

ब्रेन हैमरेज की मिली खबर

ब्रियाना ने बताया कि ये सब तब हुआ जब उनकी प्रेग्नेंसी 9वें महीने में थी। मैं और ऑस्टिन एक साथ अपने बच्चे के वेलकम की तैयार कर रहे थे। इसी बीच एक दिन वो सोने की तैयारी ही कर रही थीं कि तभी उन्हें ऑस्टिन की मां का फोन आया। उन्होंने बताया कि वो ऑस्टिन को हॉस्पिटल लेकर जा रहे हैं और उसे ब्रेन हैमरेज हुआ है।

ड्रिंक्स के चलते हैमरेज

डॉक्टर्स ने ड्रग टेस्ट किया तो पता चला कि ये हैमरेज जरूरत से ज्यादा एनर्जी ड्रिंक्स पीने की वजह से आया है और जल्द से जल्द उसकी सर्जरी करनी पड़ेगी। करीब 5 घंटे तक सर्जरी चली। इसके बाद अगले दिन दो और ब्रेन सर्जरी की गई। उसके पूरे सिर में जगह-जगह ट्यूब्स लगी थीं। अब तक ये समझना मुश्किल था कि वो कभी उठेगा भी या नहीं। हालांकि, सर्जरी ने ऑस्टिन की लाइफ बचा ली, लेकिन अभी कई और कई सर्जरी करनी बाकी थीं। इन सर्जरीज का नतीजा ये हुआ कि उसके सिर का आगे का हिस्सा आधा निकालना पड़ा।

इसी हालात में दिया बेटे को जन्म

ब्रियाना ने बताया, करीब दो और हफ्तों के आराम के बाद ऑस्टिन की स्थिति बेहतर हुई और हम घर लौटे। हालांकि, मैं अब भी तनाव में थी क्योंकि कभी भी मैं बच्चे को जन्म दे सकती थी। ये बहुत मुश्किल दिन थे। ब्रियाना ने कहा मैं उम्मीद कर रही थी ऑस्टिन उस वक्त मेरा साथ देने के लिए हो पर उसकी स्थिति ऐसी नहीं हो पाई और मैंने कुछ ही दिन बाद बेटे को जन्म दिया।

एक हफ्ते के बेटे को खुद से किया दूर

ब्रियाना ने बताया कि बेटे के जन्म के बाद लेकिन चमत्कार हुआ क्योंकि ऑस्टिन उठ खड़ा हुआ। हालांकि, ऑस्टिन और बेटे दोनों को साथ देखना मेरे लिए मुश्किल हो रहा था। ऐसे में मैंने अपने एक हफ्ते के बच्चे को ऑस्टिन के पेरेंट्स का साथ छोड़ दिया क्योंकि इस वक्त मेरे लिए ऑस्टिन की केयर जरूरी थी। साथ ही, ऑस्टिन के पेरेंट्स को भी मेरे बेटे से सहारा मिल सके।