1 सेकंड में खर्च होता है करीब 4 लीटर फ्यूल

0
112
A plane like a Boeing 747 uses approximately 1 gallon of fuel

खबर जरा हटके डेस्क.हमारे देश में जब भी कोई शख्स नई गाड़ी खरीदता है तो वो उसके माइलेज या एवरेज के बारे में जरूर पूछता है। फिर चाहे वो गाड़ी टू-व्हीलर हो या फोर व्हीलर हो। खरीदने वाला ये जरूर जानना चाहता है कि गाड़ी एक लीटर पेट्रोल या डीजल में कितना चलती है। लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि रोजाना लाखों लोगों को एक जगह से दूसरी जगह ले जाने वाले हवाई जहाजों का एवरेज क्या होता होगा। बता दें कि प्लेन में इस्तेमाल होने वाले फ्यूल को ATF (एविएशन टर्बाइन फ्यूल) कहा जाता है। इसकी खपत के बारे में ज्यादातर लोगों को पता नहीं है, और इस खबर में हम आपको यही बता रहे हैं कि एक एरोप्लेन उड़ने के दौरान कितने लीटर फ्यूल की खपत करता है।

– दुनिया के सबसे बड़े कमर्शियल विमानों में से एक बोइंग 747 के एवरेज की बात करें तो ये विमान उड़ने के दौरान हर सेकंड करीब 1 गैलन (3.78 लीटर) फ्यूल का इस्तेमाल करता है। इस तरह से 10 घंटे की उड़ान के दौरान इसमें लगभग 36 हजार गैलन यानी 1 लाख 36 हजार लीटर ईंधन खर्च हो जाता है।
– बोइंग 747 बनाने वाली कंपनी की वेबसाइट के मुताबिक एक किलोमीटर उड़ान भरने के लिए इस प्लेन को करीब 12 लीटर फ्यूल लगता है। इस विमान में बैठकर एक बार में 568 लोग तक सफर कर सकते हैं। इसकी अधिकतम रफ्तार 900 किलोमीटर/घंटा होती है।
– हवाई जहाजों में होने वाली इतनी ज्यादा ईंधन की खपत को देखते हुए यहां भी उसे बचाने के लिए कई तरीके अपनाए जाते हैं। जिसमें सबसे खास तरीका विमानों की डायरेक्ट रूटिंग का होता है। यानीकि फ्लाइट्स को लंबे रास्ते से ना ले जाकर सीधे रास्तों से ले जाया जाता है। फ्यूल सेविंग के लिए ये तरीका सबसे ज्यादा अपनाया जाता है।
– इसके अलावा फ्यूल बचाने के लिए आम गाड़ियों की तरह ही विमानों को भी एक निश्चित स्पीड पर उड़ाया जाता है, जिससे ईंधन की खपत कम होती है। इसके अलावा विमान का कम वजन भी कम ईंधन खपत में फायदा करते हैं। जिस हवाई जहाज का वजन जितना कम रहेगा उसमें ईधन की खपत उतनी ही कम होती है।

कई तरह के होते हैं एविएशन फ्यूल

– सामान्यतया एविएशन सेक्टर में इस्तेमाल होने वाला फ्यूल दो तरह का होता है। जेट फ्यूल और एवगैस (एविएशन गैसोलिन)। इनमें से जेट फ्यूल जहां अनलीडेड केरोसिन बेस्ड होता है और बड़े-बड़े एयरक्राफ्ट में यूज होता है, वहीं एवगैस छोटे से पिस्टन इंजन वाले एयरक्राफ्ट में इस्तेमाल होता है।