चाकू की नोक पर 7 साल की बच्ची से रेप, हैवानियत की हद तो देखिए आरोपी ने लड़की के प्राइवेट पार्ट में मारे इतने चाकू कि वो बेहोश हो गई, इसके बाद भी नहीं रुका दरिंदा

258
rape with 7 year old girl in bihar,Chapra Bihar News in Hindi: 7 year old girl r-aped and after privet parts injured using knife,bihar News in Hindi,बिहार समाचार,बिहार न्यूज़,छपरा न्यूज़,chhapra News in Hindi,Hindi News,Hindi Samachar,Bihar, Chhapra, Siwan,crime news in hindi

चाकू की नोक पर 7 साल की बच्ची से रेप, हैवानियत की हद तो देखिए आरोपी ने लड़की के प्राइवेट पार्ट में मारे इतने चाकू कि वो बेहोश हो गई, इसके बाद भी नहीं रुका दरिंदा

पीड़ित बच्ची के माता-पिता ने रोते हुए कहा- उस दरिंदे ने मेरी बच्ची का जिन्दगी बर्बाद कर दी उसे फांसी चढ़ा दो.

छपरा (बिहार) जिले के रसूलपुर थाना क्षेत्र में शराब के नशे में धुत युवक ने 7 वर्षीय चचेरी बुआ से रेप किया। युवक ने बच्ची के गुप्तांग पर चाकू से इतने वार किए कि वो बेहोश हो गई। उसके बाद गला दबाकर हत्या की कोशिश की। बच्ची की हालत गंभीर है। आरोपी फरार है। परिजनों ने बताया कि बच्ची टॉयलेट गई थी। इस दौरान युवक ने चाकू दिखाकर उसके साथ गलत काम किया। लोगों ने बच्ची को बेहोशी की हालत में देखा तो उसे उठाकर घर लाए। तब घटना की जानकारी हुई। बच्ची के परिजनों के बयान पर रसूलपुर थाने में प्राथमिकी दर्ज की गई है। जिसमें बगल के ही एक युवक को नामजद किया गया है। बताया जाता है कि पीड़ित बच्ची रिश्ते में उसकी बुआ लगती है।



यह भी पढ़ें : 10 साल की साली से 7 महीने तक किया गैंगरेप, अननेचुरल और ओरल सेक्स भी करते थे

फॉरेंसिक लैब की टीम ने की जांच
सूचना पर रसूलपुर थाने की पुलिस मौके पर पहुंच कर मामले की छानबीन की और बच्ची को इलाज के लिए सदर अस्पताल में लाया गया। फॉरेंसिक लैब की टीम को जांच के लिए बुलाया गया है। टीम ने घटनास्थल से सैंपल को जांच के लिए भेज दिया है। रसूलपुर थाने की पुलिस ने आरोपी के घर छापेमारी की और पूछताछ के लिए आरोपित के भाई को हिरासत में लिया है।

यह भी पढ़ें : पहले घर पर, उसके बाद संबंध बनाने के लिए ले लिया…

पांच सदस्यीय मेडिकल बोर्ड का गठन
पीड़ित बच्ची की हालत शुक्रवार दोपहर को अचानक बिगड़ गई। सदर अस्पताल प्रशासन के द्वारा बेहतर इलाज के लिए पीएमसीएच रेफर कर दिया गया। बच्ची के इलाज तथा मेडिकल जांच के लिए सिविल सर्जन के निर्देश पर पांच सदस्यीय मेडिकल बोर्ड का गठन किया गया। गठित बोर्ड ने जांच के उपरांत बच्ची की हालत को गंभीर देखते हुए तत्काल बेहतर इलाज के लिए पीएमसीएच भेजे जाने की अनुशंसा कर दी। इसके बाद परिजन उसे पीएमसीएच लेकर चले गए हैं।



परिजन बोले- आरोपी को दी जाए फांसी
माता-पिता ने रोते हुए कहा- उस दरिंदे ने मेरी फूल सी बच्ची की जिंदगी बर्बाद कर दी। ये समाज उसे कभी माफ नहीं करेगा। हमारा कानून से यही मांग है कि उसे फांसी की सजा दी जाए।

यह भी पढ़ें : दोस्ती कर युवक और परिवार के पाच सदस्यों ने उसके साथ दुष्कर्म किया

यह भी पढ़ें : बच्चियों को ब्लू फिल्में दिखाता फिर नशे की दवा देकर करता…


Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें फेसबुक पर ज्वाइन करें