3 साल की बेटी से रोज रेप करता था बाप, एक दिन ज्यादा रोई तब जाकर मां को पता चली

126
minor girl dushkarm by father in bilaspur chhattisgarh,,chhattisgarh,mungeli,bilaspur district

बिलासपुर (छत्तीसगढ़)।नशा और गंदी मानसिकता से आदमी किस कदर नीचे गिर सकता है, इसका ताजा मामला सामने आया है। जब पिता ने अपनी महज तीन साल की मासूम बेटी के साथ वह वहशियाना हरकत की जिससे मानवता शर्मसार हो गई। आरोपी अब जेल में है पर कई सवाल बाकी हैं।

बाप-बेटी का रिश्ता कलंकित हो गया

सड़क पर दुकान लगाकर कपड़े बेचने वाला एक व्यक्ति अपनी 3 साल की बच्ची के साथ पिछले कई दिनों से दुष्कर्म कर रहा था। बच्ची सुबह जब रोती तो उसकी मां ज्यादा ध्यान नहीं देती थी। सोचती कि बच्ची है, अन्य बच्चों की तरह रोती होगी। लेकिन जब बच्ची रोजाना ही ज्यादा रोने लगी तो मां को संदेह हुआ। और उसे दुष्कर्म का पता चला गया। उसने हिम्मत करके अपने पति के खिलाफ महिला थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कराने के 24 घंटे के पहले ही आरोपी पिता को गिरफ्तार कर लिया। घटना की जानकारी जैसे ही आईजी व एसपी काे मिली उन्होंने जिले भर की पुलिस को आरोपी को पकड़ने के निर्देश दिए। आरोपी को पुलिस ने शनिवार की सुबह मुंगेली से गिरफ्तार कर लिया। उसे मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया गया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया है। पर इस घटना से मानवता शर्मसार हो गई। बाप-बेटी का रिश्ता कलंकित हो गया। घटना पंद्रह दिन पुरानी है।

मेडिकल में भी हुई दुष्कर्म की पुष्टि

पुलिस के पास पीड़ित बच्ची पहुंची तो महिला पुलिस अधिकारियों ने भी उससे घटना के बारे में जानकारी ली। इसके बाद महिला पुलिस अधिकारियों ने पीड़ित बच्ची का मेडिकल कराया। मेडिकल टेस्ट मेंभी बच्ची के साथ दुष्कर्म होने की पुष्टि हो गई । मामले की संवेदनशीलता को देखतेहुए पुलिस ने शनिवार को पीड़ित बच्ची को मजिस्ट्रेट के समक्ष भी प्रस्तुत किया जहां उसका 164 के तहत बंद कमरे में बयान दर्ज किया गया।

नशे में पत्नी के साथ करता था मारपीट, हो चुकी है काउंसिलिंग

तीन वर्ष की बच्ची के साथ दुष्कर्म करनेका आरोपी नशे का आदी भी है। नशेमेंआरोपी अपनी पत्नी के साथ आए दिन मारपीट भी करता था। इन घटनाओं सेपरेशान होकर आरोपी की पत्नी नेमहिला पुलिस थानेमें शिकायत भी दर्ज कराई थी जिसकेबाद उसकी काउंसिलिंग करनेके बाद समझाइश देकर भेज दिया गया था। इसकेबाद भी आरोपी नहीं सुधरा। नशेकी हालत मेंअपनी मासूम बेटी के साथ गलत हरकतेंकरता था। गिरफ्तार करनेकेबाद जब पुलिस नेआरोपी सेपूछताछ की तो कुछ भी बताने सेइंकार कर दिया।

सात फेरे लिए उसे जेल भिजवाना आसान नहीं था

कई दिनों से बच्ची सुबह के समय रोने लगती, लेकिन बच्ची की मां ने इस तरफ ध्यान नहीं दिया। यह सोचकर कि छोटी है इसलिए रोती रहती है। 15 दिन पहले जब पीड़ित बच्ची कुछ ज्यादा ही रोई तो मां उसके पास पहुंची और उसे चुप कराने की कोशिश की। चुप होने के बाद पीड़ित बच्ची ने जो कुछ भी अपनी मांको बताया उसे सुनकर उसके होश उड़ गए। अपने ही पति द्वारा बेटी के साथ दुष्कर्म करने की बात का पता चलते ही बच्ची की मां को गहरा सदमा लगा। वह परेशान हो गई कि अब क्या करें? इसके बाद परिजनों से बात की। हैवानियत की बात जानकर परिजनों ने भी सलाह दी कि पुलिस के पास जाकर घटना की जानकारी दी जाए। इसके बाद पीड़ित बच्ची की मां महिला पुलिस थाने पहुंची और मामला कायम कराया। पर जिसके साथ सात फेरे लिए उसेजेल भिजवाना आसान न था।

भागने की कोशिश में था आरोपी

आरोपी को पकड़ने के लिए शुक्रवार की शाम से ही कई टीमें लगी हुई थीं। सूचना मिली कि आरोपी मुंगेली में छिपा हुआ है। वह भागने की कोशिश में था। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया जहां से उसे जेल भेज दिया गया। अर्चना झा, एडिशनल एसपी, ग्रामीण

सात माह में दुष्कर्म के 80 मामले, 22 आरोपी फरार

बिलासपुर जिले में इस वर्ष 1 जनवरी से लेकर 31 जुलाई तक दुष्कर्म के80 मामले विभिन्न थानों में दर्ज किए गए। इनमें 76 मामलों में 97 आरोपियों को पकड़ा गया। जिनमें से अभी तक 55 मामलों में 75 आरोपियों के खिलाफ चालान भी पेश किया जा चुका है। इसके अलावा 2 आरोपियों को अदालत से सजा भी मिल चुकी है। वहीं 53 प्रकरणों में73 आरोपियों के खिलाफ न्यायालय में केस चल रहा है। 24 मामलों में आरोपी बनाए गए 22 लोग अभी पुलिस की पकड़ से दूर हैं।