125 लड़कियों, महिलाओं से बलात्कार, सामने आई दर्दनाक दास्तां

0
125
South Sudan, rape of 125 women, civil war, United Nations, aid agency, relief camp, problem of south Sudan,दक्षिण सुडान, 125 महिलाओं से बलात्कार, सिविल वार, संयुक्त राष्ट्र, सहायता एजेंसी, राहत कैंप, दक्षिणी सुडान की समस्या, ,Hindi News, News in Hindi, Hindustan

दक्षिणी सुडान में 125 लड़कियों और महिलाओं से बलात्कार होने की चौंकाने वाली घटना सामने आई है। कई तरह की प्रताड़ना की शिकार महिलाओं की दर्दनाक दास्तान सुनकर यहां सहायता के लिए पहुंचे लोग हैरान हैं। महिलाओं का इलाज कर रहे सीमापार डॉक्टरों का कहना है कि पिछले कुछ दिनों में जिस तेजी के साथ महिलाओं के साथ यौन शोषण की घटनाएं बढ़ी हैं वो हैरान करने वाला है।

यहां पिछले 10 दिनों में यौनशोषण की घटनाएं काफी तेजी से बढ़ी हैं। पीड़िताओं को राहत कैम्पों में भेजा जा रहा है और उनकी चैरिटी के अस्पतालों में उनका इलाज कराया जा रहा है। एक दुष्कर्म पीड़िता ने इलाज करने वाले डॉक्टर को बताया कि हमलावरों ने बूढ़ी और गर्भवती महिलाओं को भी नहीं छोड़ा, यहां तक की 10 साल तक की छोटी बच्चियों का भी बलात्कार किया गया।

रुथ ओकेलो नाम के शख्स ने समाचार एजेंसी एसोसिएटेड प्रेस को बताया है यहां दक्षिणी सुडान में पिछले हफ्ते जो कुछ हुआ है बताने लायक नहीं है। महिलाओं के कपड़े और जूते चप्प्ल तक लूट लिए गए हैं। बहुत से लोगों के राशन कार्ड छीन लिए गए हैं और उन्हें नष्ट कर दिया गया है।

संयुक्तरा राष्ट्र मिशन के प्रमुख डेविड शीयर ने कहा, ये घिनौने हमले कुछ नौजवानों द्वारा किए गए जो या तो सेना की ड्रेस और साधारण कपड़ों में थे। घटना के बाद संयुक्त राष्ट्र की पुलिस ने राहत कैंपों की गस्त बढ़ा दी है और नागरिकों से अपील की है कि हमलावरों को पकड़ लें। हलांकि इस मामले में सुडान सरकार की ओर से कोई प्रतिक्रियां नहीं दी गई।

सिविल वार से जूझ रहा दक्षिण सुडान-
हाल में आई एक रिपोर्ट के अनुसार दक्षिण सुडान पिछले 4 सालों से सिविल वार से जूझ रहा है जिसमें कुछ बड़े मुल्क विद्रोहियों को हथियार सप्लाई कर रहे हैं। एक रिपोर्ट में कहा गया है कि अब तब यहां 382000 लोग मारे जा चुके हैं। इतना ही नहीं अभी यहां करीब 200000 राउंड आयुध सामग्री विद्रोहियों के पास है और उनके अधिकांश हथियार चीन के बने हुए हैं। यह युद्ध यहां की सरकारी सेना और विद्रोही गुट के बीच चल रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here