12वीं की छात्रा के साथ गैंगरेप, वारदात के बाद जहर पिलाया

73
girl, student, gang raped, criminals, chhatisgarh police

छत्तीसगढ़ के जांजगीर चांपा में एक लड़की के साथ हैवानियत का मामला सामने आया है. पीड़ित लड़की के साथ ना केवल गैंगरेप हुआ बल्कि दरिंदो ने उसे जहर तक पिला दिया, ताकि जितनी जल्दी हो सके उसकी मौत हो जाए.

छत्तीसगढ़ के जांजगीर चांपा में एक लड़की के साथ हैवानियत का मामला सामने आया है. पीड़ित लड़की के साथ ना केवल गैंगरेप हुआ बल्कि दरिंदो ने उसे जहर तक पिला दिया, ताकि जितनी जल्दी हो सके उसकी मौत हो जाए. बलात्कारियों का मकसद साफ था, पीड़िता ना तो पुलिस तक पहुंचे और ना ही अपनी आपबीती किसी को सुना पाए.

दरिंदों के अरमानों पर पानी फेरते हुए पीड़िता जैसे-तैसे अपने घर पहुंची. परिजनों को आपबीती सुनाई, जिसे सुनकर हर किसी का कलेजा कांप उठा. परिजनों ने पुलिस को तुरंत सूचना दी, लेकिन इसका कोई असर नहीं हुआ. पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ गैंगरेप का मामला तो दर्ज कर लिया, लेकिन उनको हवालात पहुंचाने में सक्रियता नहीं दिखाई.

इधर, समय रहते पीड़िता को अस्पताल में दाखिल करा देने से उसकी जान बच गई. कड़ी जद्दोजहद के बाद चार आरोपियों को पुलिस ने धर दबोचा. बताया जा रहा है कि नाबालिग के साथ अनाचार और फिर हैवानियत की इंतहा हो गई. दरिंदो ने पहले तो 12वीं की छात्रा के साथ गैंगरेप किया और फिर अधमरी हालत में उसे जोर जबरदस्ती जहर पिला दिया.

डॉक्टरों के मुताबिक, पीड़ित युवती की हालत स्थिर बनी हुई है. उसके प्राइवेट पार्ट जख्मी हो चुका है. जहर ने लिवर, किडनी और आंखों को बेहद नुकसान पहुंचाया है. पीड़िता का बेहतर इलाज किया जा रहा है. इधर घटना के हफ्तेभर तक पुलिस ने आरोपियों की धरपकड़ के लिए कोई खास रूचि नहीं दिखाई. महिला आयोग ने संज्ञान लिया, तब पुलिस सक्रिय हुई.

राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष हर्षिता पांडे ने अस्पताल में भर्ती पीड़ित युवती से मुलाकात की और हालचाल जाना. इसके साथ ही उन्होंने डॉक्टरों से पीड़ित युवती के बेहतर इलाज के निर्देश भी दिये हैं. इधर चार आरोपियों में से एक नाबालिग भी है, जो फिलहाल पुलिस की हिरासत में है. पुलिस इस मामले की जांच के साथ ही आरोपियों से पूछताछ में जुटी है.

बताया जाता है कि पड़ोस में रहने वाले एक लड़के ने पीड़ित लड़की को फोन कर उसकी सहेली के घर बुलाया. उसे बताया गया कि उसकी सहेली की तबियत ख़राब है. इससे पहले की पीड़िता अपनी सहेली के घर पहुंचती, चार लड़कों ने उसे घेर लिया. उसे अपनी हवस का शिकार बनाया और कीटनाशक पिलाकर उसे मारने की कोशिश भी की थी.