हम बहू लाना चाहते थे, हत्यारों ने घर उजाड़ दिया

38
Kapurthala News, Crime News, Punjab News In Hindi, Retired Sub Inspector Son, Financier Youth, Burned Alive, Son Died, Unknown People Burned, By Petrol, जिंदा जलाया, युवक, मां, रिटायर्ड सब इंस्पेक्टर का बेटा, मां, फोन, पेट्रोल, हत्या, मर्डर, पंजाब न्यूज, Hindi News, Hindi Samachar, हिंदी न्यूज़, हिंदी समाचार, Kapurthala,punjab News in Hindi,पंजाब समाचार,पंजाब न्यूज़,कपूरथला न्यूज़,kapurthala News in Hindi,Hindi News,Hindi Samachar,Punjab, Punjab Police

मां को फोन कर कहा- आधा घंटा लेट हो जाऊंगा, फिक्र मत करना, कुछ घंटे भर बाद खबर मिली कि जिंदा जल गया है बेटा

पिता ने कहा – हम बहू लाना चाहते थे, हत्यारों ने घर उजाड़ दिया

कपूरथला (पंजाब) पंजाब पुलिस के सीआईडी विंग से रिटायर्ड सब इंस्पेक्टर के फाइनांसर बेटे को रविवार रात को अज्ञात लोगों ने नंगल नरायणगढ़ के पास पेट्रोल डालकर जला दिया। इलाज के दौरान विशाल शर्मा (32) की मौत हो गई। युवक की हत्या का मामला पुलिस के लिए सिरदर्दी बन गया है। घटना स्थल से पुलिस को कई ऐसे पहलू मिले हैं, जिसने उन्हें उलझन में डाल दिया है।

प्राथमिक जांच में सामने आया कि मृतक विशाल ने रात को घर वापस आते समय रास्ते में दुकान से खाली बोतल मांगी थी। उस समय उसके पास एक खाली बोतल थी। पुलिस को यह खुलासा एक दुकानदार ने किया है। मृतक को इन दो बोतलों का क्या करना था, इसे लेकर पुलिस खुद उलझन में है। दूसरा 8:40 बजे मृतक ने मां को फोनकर आधा घंटा लेट आने की सूचना दी थी। पर एक घंटे बाद फोन बंद मिला। मृतक आधा घंटे तक क्या करना चाहता था। पुलिस को संदेह है कि या तो फाइनांस के पैसों को लेकर किसी से विवाद था या अवैध संबंधों का मामला है।

यह भी पढ़ें :- शराब के नशे में धुत था दूल्हा, दुल्हन से की छेड़खानी…

मां को फोन करने के 50 मिनट बाद ही विशाल का फोन नॉट रीचेबल हो गया
मृतक के पिता अशोक शर्मा के अनुसार- आधा घंटा लेट आऊंगा, फिक्र न करना। यह अंतिम बोल विशाल ने अपनी मां को फोन पर कहे थे। विशाल शर्मा ने 8:40 बजे मां को फोन कर यह दिलासा दिया था, लेकिन क्या पता था कि बेटे के यह आखिरी बोल थे। यह कहकर मां सुषमा रोने लग जाती है। मां ने कहा कि मेरा बेटा जब भी घर से बाहर जाता था तो वह कब लौट रहा है, इसकी फोन कर सूचना देता था।
रविवार को भी विशाल ने ऐसा ही कहा। वो घर से 5 बजे गया था। रात 8:40 बजे उसने फोन कर कहा कि वह आधा घंटा लेट आएगा। बाद में 9:30 बजे उन्होंने फोन किया तो विशाल का फोन नॉट रीचेबल था। 10 बजे रात पता चला कि विशाल आग से झुलसा है और सिविल अस्पताल में है। सुबह 3 बजे उसकी मौत हो गई।

हम बहू घर लाना चाहते थे, हत्यारों ने घर उजाड़ दिया
पिता ने कहा, लंबा समय सीआईडी में रहा। वह विशाल की शादी कर घर में बहू लाने की तैयारी कर रहे थे। सगाई की बात चल रही थी। लेकिन हत्यारों ने उसके बेटे को बेरहमी से मार डाला।

दुकानदार से खाली बोतल क्यों मांगी, इस पर भी जांच कर रही पुलिस
सीआईए स्टाफ इंचार्ज बलविंदरपाल ने कहा कि अब तक की जांच में यह भी सामने आया है कि विशाल ने किसी दुकान से खाली बोतल मांगी था। लेकिन दुकानदार ने खाली बोतल देने से मना कर दिया। दुकानदार के मुताबिक- विशाल के हाथ में पहले भी एक खाली बोतल थी। विशाल इन बोतलों का क्या करता। इसका अभी कोई पता नहीं चल पाया है। पुलिस विशाल की घटना समय दो घंटे में आई मोबाइल कॉल को ट्रेस कर रही है। कॉलों का डॉटा खंगाला जा रहा है, जिससे पता चल सकेगा कि इस घटना के तार कहा जुड़े हैं।

यह भी पढ़ें :- जिस्मफरोशी के दलदल में फंसा था इस फिल्म अभिनेत्री का नाम!


Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें फेसबुक पर ज्वाइन करें