सास के मुहं पर डाला एसिड, चीख सुनकर पहुंची दो बेटियां…उनपर भी गिरे छीटें…

23
Begusarai Bihar, Husband throws ोttack acid on woman,Begusarai, Bihar, Acid Attack, Udaipur

बेगूसराय (बिहार)। तलाकशुदा पति ने मायके में सो रही अपनी पत्नी, सास व साली पर तेजाब फेंककर उसे जख्मी कर दिया। इस तेजाब कांड में सास गंभीर रूप से घायल है, जिसका इलाज निजी नर्सिंग होम में चल रहा है। घटना को तीन लोगों ने मिलकर अंजाम दिया।

जानकारी के मुताबिक, 45 वर्षीय नुसरत खातून घर के बरामदे में सोई थी। इसी क्रम में पहले उस पर एसिड फेंका। जब महिला ने शोर मचाया तो दो बेटियां मां के पास पहुंची और मां को तड़पते देख उसे अपनी बाहों में लिया। एसिड अटैक में नुसरत गंभीर रूप से झुलस गई जबकि उनकी बेटी नाजिया, मेहनाज परवीन झुलस गईं। परिजनों ने महिला एवं दोनों बेटियां को देर रात को रोसड़ा के एक निजी क्लिनिक में भर्ती कराया। लेकिन चिकित्सकों ने महिला का चेहरा अत्यधिक जलने की वजह से बेगूसराय रेफर कर दिया।

पीड़ित परिवार ने दामाद पर लगाया आरोप
पीड़ित परिवार का आरोप है कि उनके दामाद मो. शमशाद ने ही उन लोगों पर एसिड अटैक किया है। पीड़ित परिवार के मुखिया अलीम अंसारी ने बताया कि अपनी बड़ी बेटी नाजिया की शादी अप्रैल 2017 में मो. शमशाद के साथ हुई थी, लेकिन शादी के बाद पति-पत्नी में लगातार झगड़ा चल रहा था। पति रोज मारपीट करता था। जिस वजह से उसने तलाक ले लिया था। अब वो नाजिया को साथ रखना चाहता है, लेकिन बेटी उसके साथ नहीं रहना चाहती है।

एसिड का किया गया प्रयोग
अल सुबह घटना की सूचना मिलते ही ओपी अध्यक्ष पुलिस बल के घटना स्थल पर पहुंच मामले की जांच शुरू कर दी है। पुलिस को घटनास्थल पर से 200 एमएल की एक प्लास्टिक बोतल बरामद की है जिसमें एसिड लाया गया। उस छोटे बोतल से सुबह तक धुआं निकल रहा था। जिससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि घटना को अंजाम देने में हाई पावर एसिड का प्रयोग गया है।

आरोपितों को बख्शा नहीं जाएगा
ओपी अध्यक्ष ओमप्रकाश कुमार ने बताया कि घटना की जानकारी मिलते ही घटनास्थल पर पहुंच जरूरी पूछताछ कर घायलों को बेहतर इलाज के लिए बेगूसराय भेजा गया है। एसिड अटैक में घायलों का बयान लेकर आरोपियों को किसी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा।


Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें फेसबुक पर ज्वाइन करें