सरेआम करवाया बेटी का मर्डर, बचाने आए पुलिसकर्मी को भी मारी 3 गोली

71
honor killing on the betel in rohtak,,haryana,hisar,nari niketan karnal

रोहतक (हरियाणा)। लघु सचिवालय के मुख्य गेट के बाहर लव मैरिज करने वाली युवती की दो गोलियां मारकर हत्या कर दी गई। उसे करनाल नारी निकेतन से पेशी पर लेकर आए एसआई नरेंद्र ने जब बचाने का प्रयास किया तो उन्हें भी तीन गोलियां मारी गईं। इज्जत के नाम पर हुए इस डबल मर्डर मामले में खुलासा हुआ कि फूफा ने ही अपनी गोद ली हुई बेटी की हत्या करवाई थी। बेटी न होने पर पूर्व फौजी रमेश (फूफा) ने अपनी ढाई वर्षीय भतीजी को गोद लिया था। उसका एक ही बेटा था। 17 साल की उम्र तक बेटी को प्यार से पाला। जब बेटी ने अपने किराएदार सोमबीर उर्फ सुनील से 7 माह पहले लव मैरिज की तो यह प्यार नफरत में बदल गया। तभी से उसे मारने की धमकी दी जा रही थी।

एक पिता ने अपनी ही बेटी की सुपारी देकर गोलियाें से छलनी करवा दिया

– रमेश ने सोमबीर और उसके पिता को भी लड़की का फर्जी जन्म प्रमाणपत्र बनवाने के मामले में जेल भिजवा दिया।

– बुधवार को युवती की अहम गवाही होनी थी। सोमबीर की मां ने आरोप लगाया कि रमेश ने उन्हें बुधवार को अपनी ही बेटी को मारने की धमकी दी थी।

– बुधवार दोपहर 3 बजे एक पिता ने अपनी ही बेटी को सुपारी देकर गोलियाें से छलनी करवा दिया। हत्याकांड में युवती के ताऊ का बेटा भी शामिल था। इस हमले में जहां एसआई नरेंद्र मारे गए।

युवती के घर में किराए पर रहता था प्रेमी

– मृतका को हिसार के रहने वाले उसके फूफा रमेश ने 2002 में अपने साले से गोद लिया था। गोद लेने के समय उसकी उम्र ढाई साल थी। तब से वह अपने फूफा के पास रहती थी।

– फूफा के घर में किराए पर रहने वाले सोमबीर से उसे प्यार हो गया। इसके बाद दोनों ने परिवार से बगावत कर भागकर कोर्ट मैरिज कर ली।

– रमेश ने सोमबीर के खिलाफ 24 अगस्त 2017 को बेटी को बंधक बनाने का केस दर्ज करवा दिया। इसके बाद सोमबीर जेल चला गया, जबकि नाबालिग किशोरी नारी निकेतन करनाल भेज दी गई। अब वह बालिग हो गई थी।

करनाल में महिला कॉर्डिनेटर को बोली थी युवती-मैडम मैं कल घर चली जाऊंगी

– पिछले सात महीने से करनाल के नारी निकेतन में रहकर युवती तंग आ चुकी थी। अब बालिग होने के बाद उसे अहसास था कि वह जल्दी ही घर जाने वाली है। मंगलवार रात को महिला एवं बाल विकास विभाग की टीम ने जब नारी निकेतन का औचक निरीक्षण किया तो वह काफी खुश नजर आ रही थी।

– स्टेट प्रोजेक्ट कोऑर्डिनेटर डॉ. पुनित कौर ग्रेवाल ने बताया कि युवती काफी खुश थी। खुद ही उसने बताया था कि बुधवार को उसका कोर्ट में ट्रायल होना है। इससे वह काफी अश्वस्त नजर आ रही थी कि वह कल घर चली जाएगी और परिवार से मिलेगी।

इन धाराओं में हुआ केस दर्ज :पुलिस ने कांस्टेबल सुशीला के बयान पर फूफा रमेश व दो अन्य पर केस दर्ज कर लिया है।