शर्मनाक: रेप का वीडियो वायरल होने पर किशोरी ने की आत्महत्या

141
Rape,Dalit Girl,Suicide,Video Viral,Rape Video,Mainpuri,Uttar Pradesh,Rape In UP

दुष्कर्म और छेड़खानी का वीडियो वायरल होने के बाद दलित किशोरी ने आत्महत्या कर ली। गुस्साए परिजनों ने किशोरी का शव रखकर जाम लगाया तो पुलिस की नींद टूटी और उसने आरोपी पांच युवकों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया। आरोपी गांव छोड़कर भाग गए। पुलिस की चार टीमें गुनाहगारों की तलाश में जुटी हैं।

पुलिस को दी गई तहरीर के मुताबिक, जिला मुख्यालय के समीपवर्ती गांव निवासी 14 वर्षीय दलित किशोरी खेत पर गई थी। गांव के ही मोंटी पुत्र रामनाथ यादव ने उसे पकड़ लिया। उसके साथ रेप किया और वीडियो बना लिया। उसके बाद फोटो-वीडियो अपने दोस्त कौशल, मोहित पुत्रगण रामनरेश यादव, पंकज पुत्र श्यामलाल, उमेश पुत्र मानसिंह राठौर को दे दिए। आरोप है कि इसी वीडियो के सहारे आरोपी किशोरी से एकांत में मिलने का दबाव बनाने लगे। संबंध न बनाने पर आरोपियों ने किशोरी को जान से मारने और वीडियो वायरल करने की धमकी देने लगे।

पीड़िता के पिता को भी पीटा
पीड़िता ने पूरे मामले की जानकारी अपने पिता को दी। पिता आरोपियों के घर पहुंचा और पुत्री को परेशान न करने के लिए आग्रह किया। इस दौरान आरोपियों ने दुस्साहस दिखाते हुए पीड़िता के पिता के साथ ही मारपीट कर दी। रविवार को आहत पिता की गुहार पर ग्रामीणों ने दोनों पक्षों को बैठाकर पंचायत की। आरोपियों की दबंगई के सामने पंचों की एक न चली। पंचायत के सामने ही आरोपी पीड़िता के पिता को ही धमकाने लगे। इसी बीच आरापियों ने वीडियो और फोटो वायरल भी कर दिए।

आहत होकर खाया जहर
पहले रेप और फिर पिता के साथ मारपीट के से किशोरी क्षुब्ध हो गई। दुखी पीड़िता ने 12 अगस्त को जहर खा लिया। परिजन पीड़िता को मैनपुरी जिला अस्पताल लेकर दौड़े। यहां हालत बिगड़ी तो चिकित्सकों ने उसे सैफई मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया। वहां उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। सैफई में किशोरी के शव का पोस्टमार्टम होने के बाद सोमवार को परिजन उसके शव को लेकर मैनपुरी पहुंचे। पूरे घटनाक्रम में पुलिस की शिथिलता से व्यथित परिजनों ने भोगांव-मैनपुरी मार्ग पर शव रखकर जाम लगा दिया।

पांचों आरोपी फरार, चार टीमें गठित
मौके पर पहुंची पुलिस ने ग्रामीणों का जाम खुलवाया। वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देश पर आनन-फानन में पिता की तहरीर पर पांचों आरोपियों के खिलाफ एससी-एसटी, पाक्सो एक्ट, दुष्कर्म व खुदकुशी के लिए उकसाने का केस दर्ज किया है। घटना के बाद से पांचों आरोपी गांव से फरार हो गए हैं। उनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस की चार टीम लगाई गई हैं।

मैनपुरी के एसपी अजय शंकर राय ने बताया कि किशोरी के साथ रेप और वीडियो वायरल करने की घटना व्यथित करने वाली है। तहरीर मिलने पर कोतवाली पुलिस के साथ सीओ सिटी को मौके पर भेजा गया था। मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। आरोपी गांव से फरार हैं। उनकी गिरफ्तारी के लिए तीन टीमें लगाई गई हैं।