लड़को को मज्जे देने के बहाने रात को कमरे में लाती थी पत्नी, मौका देखते ही पति कर देता था ये काम

183
aajtaklives news

एक शादीशुदा कपल को अमीर बनने की इतनी जल्दीा थी कि उन्होंने कई लोगों की जिंदगी बर्बाद कर दी। वो तकतक बचे रहे जबतक किसी ने शर्म से मुंह नहीं खोला। लेकिन एक युवक ने हिम्मोत दिखाई और इस गिरोह का भंड़ाफोड़ कर दिया। पुलिस ने 3 युवतियों सहित 2 युवकों को गिरफ्तार किया है। दरअसल होता था कि लड़कियां मीठी-मीठी बातें कर लड़कों पहले अपने जाल में फंसाती थी। फिर उन्हें मिलने बुलाती थी जहां उनका वीडियो बना लिया जाता था। उसके बाद ब्लैीकमेल कर उनसे मोटी रकम ऐंठी जाती थी। वारदात को अंजाम देने के लिए वो पॉश कालॉनियों में रहते थे। उनका शिकार 30 साल के युवक रहते थे। जानिए पूरा मामला
Advertisement





शारीरिक सम्बन्ध शुरू होते बना लिया जाता था वीडियो
aajtaklives news
पुलिस से प्राप्तश जानकारी के मुताबिक केलाबाड़ी दुर्ग निवासी मो खलील(27) 19 नवंबर को मोबाइल पर एक युवती का फोन आया। ट्रू-कॉलर में उसका नाम आफिया दिख रहा था। युवती ने उससे मीठी-मीठी बात शुरू कर दी। दो दिनों तक बात होने के बाद युवती ने लड़के को मिलने के लिए भिलाई सेक्टशर 9 अस्प ताल के पास बुलाया। वहां उसके साथ एक और युवती खलील को मिली।
दोनों उसे रिसाली स्थित फ्लैट के दूसरी मंजिल पर ले गईं। वह लड़की के साथ कमरे में घुस गया। कमरे में दोनों इंटिमेट हुए।
Advertisement





तभी कमरे में आ गए दो युवक
aajtaklives news
इसी बीच अचानक वहां दो लड़के आ गए। वहां पहुंचे युवक विवेक ने युवती को बहन बताया और विवाद करने लगा। दूसरा युवक खलील को धमकाने लगा। आरोपियों ने खलील को बताया कि उसका वीडियो बना लिया गया है, अब हम तुम्हारे परिजन को बताएंगे और सोशल मीडिया पर भी वायरल करेंगे। विवेक ने खुद को पत्रकार बताया और कहा कि न्यूज बनाकर वायरल कर दूंगा और थाने में रेप का मामला भी दर्ज करा दूंगा।

ब्लैकमेल कर मांगे 3 लाख रुपए
aajtaklives news
विवेक ने कहा कि बचना है तो 3 लाख रुपए दो। आरोपियों ने डेढ़ लाख रुपए में सौदा कर उसे जल्द पैसा लाने की बात कहकर जाने दिया। खलील ने 60 हजार रुपए लाकर दे भी दिए। दूसरी किस्त के लिए 3 महीने का मौका दिया गया, लेकिन आरोपी जल्दबाजी में थे। वे पहले ही रकम लेने की बात करने लगे।
Advertisement





30 साल के युवक होते थे टारगेट
aajtaklives news
गिरोह का टारगेट ऐसे लोग होते थे जिनकी उम्र 30 साल या उससे अधिक हो। इस आयु वर्ग को टारगेट करने के पीछे उन्होंने वजह बताई कि ऐसे लोगों की अधिकांश शादी हो चुकी होती है, इसलिए उन्हें ब्लैकमेल करना आसान हो जाता है। आरोपियों के पास से अलग-अलग कंपनियों के मोबाइल, लूटी गई रकम और आरोपी सौरभ वर्मा से घटना में प्रयुक्त वाहन बीट कार सीजी 07-5500, विवेक चौधरी से सफेद कलर की सेलॉन कार सीजी 07 एल टी 4400 और एक्टीवा सीजी 08 जेड 8830 को बरामद की है।