लड़कियों का शौकीन पति शादी के 10 दिन बाद ही ढाने लगा था जुल्म

55
triple talaq bill, rajya sabha, victim sofia ahmed, told her story,,Lucknow, Ravi Shankar Prasad, rajya sabha, Lok Sabha, Kanpur, UP, Chennai, Tahrir, aajtaklives news in hindi, hindi news, aajtak lives news

लखनऊ। राज्यसभा में हंगामे की वजह से तीन तलाक से जुड़ा नया बिल सोमवार को सदन में पेश नहीं हो सका। सदन की कार्यवाही अब 2 जनवरी तक स्थगित कर दी गई है। देश में ऐसे कई मामले हैं, जिनमें छोटी-छोटी वजहों को लेकर तलाक दे दिया गया। ऐसा ही एक मामला लखनऊ का है। जहां पति ने रात के 3 बजे पत्नी को तीन तलाक कहकर 1 महीने के बच्चे के साथ घर से निकाल दिया था।

रोज नई लड़कियों से रिलेशन बनाना आदत हो गई थी उसकी
– चेन्नई की रहने वाली सोफिया अहमद की शादी 12 जून 2015 को यूपी में सपा विधायक गजाला लारी (बहन) के भाई शारिक अराफात से हुई थी। शादी के बाद सोफिया पति के साथ कानपुर में रहने लगी थी। शारिक लेदर का बिजनेस करता था।
– सोफिया ने एक इंटरव्यू में बताया था कि शादी के 10वें दिन से पति का जुल्म शुरू हो गया। उसे शराब और लड़कियों की लत थी। जब मैंने विरोध किया, तो उसने मुझ पर हाथ उठना शुरू कर दिया। घरवालों के सामने वो मुझे मारता-पीटता था, पर मेरे फेवर में कोई नहीं बोला। इतना ही नहीं शादी के बाद जब प्रेग्नेंट हुई, तो पति और सास ने बेटा देने का दबाव बनाया।

शराब पीकर आया था पति और रात 3 बजे तलाक-तलाक-तलाक बोल निकाल दिया बाहर

– सोफिया ने बताया था कि 13 अगस्त 2016 को शारिक नशे की हालत में घर आया था। रात के करीब 2 बजे थे, वो चल भी नहीं पा रहा था। उस रात भी उसने मुझे मारा-पीटा और हर तरह से टॉर्चर किया। आखि‍र में तलाक-तलाक-तलाक बोलकर रात के 3 बजे 1 महीने के बच्चे के साथ घर से बाहर निकाल दिया।
– सोफिया ने बताया था कि मामले में तहरीर देने जब वह स्वरूप नगर पुलिस स्टेशन गईं तो सपा विधायक के घर का मामला होने के कारण समझौता करने की बात कह कर पुलिसवालों ने भगा दिया।

– बता दें कि इस मामले के बाद यूपी सरकार ने कानपुर की रहने वाली सोफिया अहमद को अल्पसंख्यक आयोग का सदस्य भी बनाया।


Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें फेसबुक पर ज्वाइन करें