महिला वकील को पीटा, जबरन पिलाई शराब और किया रेप, चैंबर के बाहर निर्वस्त्र पड़ी मिली…

0
369
women advocate dushkarm in chamber saket accused arrested

नई दिल्ली।साकेत डिस्ट्रिक्ट कोर्ट के चैंबर नंबर 247 में महिला एडवोकेट (32) को जबरन शराब पिलाकर उसके साथ दुष्कर्म करने का मामला सामने आया है। दुष्कर्म सीनियर एडवोकेट प्रमोद कुमार लाल (53) ने किया है। वारदात शनिवार शाम 6 से 7.30 बजे के बीच की है। पीड़िता बयान पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ जबरन शराब पिलाकर मारपीट और दुष्कर्म करने का केस दर्ज कर देर रात उसे गिरफ्तार कर लिया। सगम ं विहार निवासी आरोपी को कोर्ट में पेश करने के बाद उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। हिमाचल प्रदेश निवासी पीड़िता बाद में अपने बयान से पलट न जाए, इसलिए 164 के तहत उसके बयान भी दर्ज किए गए। मामले की जाच के ं लिए पुलिस घटनास्थल के आसपास के सीसीटीवी फुटेज खगाल र ं ही है। उधर, बार एसोसिएशन ने आरोपी की सदस्यता निलंबित कर दी है।

शनिवार शाम 6 से 7.30 बजे के बीच की घटना, चैंबर-247 में वारदात, चैंबर-264 के बाहर मिली

आरोपी ने छुट्टीहोने के बावजूद पीड़िता को बुलाया

पुलिस के मुताबिक, दूसरा शनिवार होने के कारण कोर्ट की छुट्टी थी। इसके बावजूद आरोपी ने पीड़िता को कॉल कर केस पर डिस्कस करने के लिए चैंबर में बुलाया। पीड़िता शाम को दूसरी मंजिल पर स्थित चैंबर में पहुंची। आरोपी पहले से चैंबर में मौजूद था। वह शराब पीए हुए था। पीड़िता जैसे ही चैंबर में पहुंची, आरोपी चैंबर अंदर से बंद कर केस के सिलसिले में बात करने लगा। इसी दौरान उसने पीड़िता की नाक दबाकर उसके मुंह में जबरदस्ती शराब डाल दिया। फिर जबरन उसके कपड़े उतारे। चिल्लाने पर पीड़िता का मुंह दबाकर उसके साथ मारपीट की और दुष्कर्म किया। वारदात के बाद पीड़िता नग्न अवस्था में चैंबर नंबर 264 के बाहर पड़ी थी।

चैंबर-264 के बाहर कैसे पहची, पता नहीं : पीड़िता

कोर्ट परिसर में रहने वाले करनैल सिंह की नजर पीड़िता पर पर पड़ी। उन्होंने सीनियर एडवोकेट राकेश सिंह को कॉल कर कहा कि तुम्हारी जूनियर चैंबर नंबर 264 के बाहर नग्न अवस्था में पड़ी है। इसके बाद तुरंत घटनास्थल पर पहुंचे राकेश ने पीड़िता को कपड़े पहनाए और उसे उसके घर ले गए। वहां से दोनों एम्स ट्रॉमा सेंटर गए। यहां पीड़िता ने डॉक्टर को पूरी बात बताई। इसके बाद वहां से मामला पुलिस के पास पहुंचा। इसके बाद पीड़िता की मेडिकल जांच कराई गई। उधर, पीड़िता ने बताया कि चैंबर नंबर 264 के बाहर वह कैसे पहुंची, खुद भी नहीं जानती। फिलगहाल पुलिस मामले के बारे में जानकारी कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here