भाई बोला- एक दिन पहले ही बहना का फोन आया था, उसकी सीरियस बातों को हम इग्नोर कर गए…

404
aajtaklives news, news in hindi, hindi news, crime news in hindi,Hisar Haryana News in Hindi: woman dowry murder by in-laws,Haryana, Hissar, Uttar Pradesh, Kannauj, Mainpuri

महिला को शादी का जोड़ा पहनाकर जा रहे थे अंतिम संस्कार करने, तभी श्मशान घाट पर पहुंच गए मायके वाले…चिता पर से शव उतरवाया तो सामने आई कुछ और ही कहानी

भाई बोला- एक दिन पहले बहना का फोन आया था, वह बोली थी आ जाओ..वरना ये लोग जान से मार देंगे

हिसार (हरियाणा) दहेज की मांग पूरी न होने पर ससुरालजनों द्वारा 22 वर्षीय प्रेग्नेंट महिला नीतू की गला घोंटकर हत्या करने का आरोप मायके पक्ष के लोगों ने लगाया है। आरोप है कि शव को खुर्द-बुर्द करने के इरादे से श्मशान घाट लेकर गए थे। वहां पर चिता बनाकर उसके ऊपर शव भी रख दिया था। इससे पहले मुखाग्नि दे पाते कि मृतका का भाई वहां पहुंच गया। उसने रिश्तेदारों की मदद से शव को उतारा। नीतू के गले पर चोट के निशान देखकर पति व ससुर का विरोध किया, तो वो लोग फरार हो गए। इसके बाद पुलिस भी पहुंची गई। शव को कब्जे में लेकर सिविल अस्पताल की मोर्चरी में रखवा दिया है।

मृतका के भाई बिमलेश की शिकायत पर पति कुलदीप, ससुर राधेश्याम, सास श्यामा देवी और ननद पूजा के खिलाफ पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है। वारदात से एक दिन पहले नीतू ने भाई बिमलेश को फोन करके ससुराल से ले जाने को कहा था। बताया था कि ससुरालजन उसे जान से मारने का प्लान बना रहे हैं। इसके बाद भी भाई और घरवाले बेटी की बात को इग्नोर कर दिया

यह भी पढ़ें :- महिलाओं को बेरहमी से नोचते हैं यहां हर तीसरा आदमी है…

भाई बोला- बुधवार को ही आया था बहन का फोन
बाइस वर्षीय बहन नीतू उत्तर प्रदेश के कन्नौज जिले के भवानीपुर गांव की थी। 27 अप्रैल 2018 को उसकी शादी कुलदीप से हुई थी। वह करीब दो माह की प्रेग्नेंट थी। शादी के बाद से लगातार बहन को दहेज के लिए प्रताड़ित किया जा रहा था। कभी सोने की अंगूठी तो कभी कैश मांगते थे। उनकी हर मांग को पूरा करने की कोशिश हम करते लेकिन हैसियत के अनुसार जितना बन पाता उतना दे देते थे। यह सोचकर कि बहन को परेशान नहीं करेंगे लेकिन उनकी डिमांड बढ़ती गई। बहन को मानसिक व शारीरिक रूप से प्रताड़ित करने का सिलसिला जारी रहा। मेरे रिश्तेदार विपिन उर्फ राहुल के पास बुधवार को नीतू का फोन आया था। उसने बताया था कि पति और ससुरालजन दहेज के लिए प्रताड़ित कर रहे हैं। उसे समझाया था कि चिंता न कर जल्दी आकर ले जाऊंगा। वह बोली कि आ जाओ..वरना जान से मार देंगे।

चुपके से सुहागन के जोड़े में लिटाकर मुखाग्नि की चल रही थी तैयारी
मृतका नीतू के भाई बिमलेश ने पुलिस को बताया, गुरुवार दोपहर को मेरे पास कुलदीप का फोन आया। उसने बताया कि नीतू बीमार है। उसे अस्पताल में दाखिल करवाया गया है। यह सुनकर अपने रिश्तेदारों को साथ लेकर तुरंत हिसार के लिए रवाना हुआ। जब नीतू के ससुराल में पहुंचा तो वहां ताला लगा था। कुलदीप से फोन पर संपर्क किया तो उसने कहा कि श्मशान घाट आ जाओ। हम सब यहीं हैं। वहां पहुंचे तो देखा चिता सजी हुई है। उस पर नीतू को सुहागन के जोड़े में लिटाकर मुखाग्नि की तैयारी चल रही है। इससे पहले कि उसकी चिता को आग लगाते हमने विरोध किया। नीतू के शव को नीचे उतारा तो गले पर चोट के निशान मिले। यह देख कुलदीप से पूछा तो कुछ कहने की बजाए तुरंत वहां से भाग गया। इस मामले की सूचना देकर पुलिस को बुलाया।

प्रारंभिक जांच में गला घोंटकर हत्या की बात सामने आई है। इस मामले में मृतका के आरोपी पति, सास व ससुर सहित अन्य लोगों के विरुद्ध केस दर्ज कर लिया है। उनकी धरपकड़ के प्रयास जारी हैं। शव का पोस्टमार्टम करवाया जाएगा।
दयानंद, इंचार्ज, सब्जी मंडी, पुलिस चौकी।

यह भी पढ़ें :- बेटी को गोद में लेते ही खून से लाल हो गया…


Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें फेसबुक पर ज्वाइन करें