बेटी को गोद में लेते ही खून से लाल हो गया पिता का हाथ, 7 घंटे तक होती रही ब्लीडिंग

66
3-year-old girl molestation by 24-year-old man

सूरत। सचिन के होजवाला एस्टेट में 24 साल के युवक ने 3 साल की मासूम का अपहरण कर दरिंदगी की। आरोपी युवक घर पर खेल रही बच्ची को ले गया और करीब 100 मीटर दूर अपने घर की छत पर रेप किया। पिता बेटी को ढूंढते हुए पहुंचे तो आरोपी अंधेरे में ही छत पर छिप गया। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है। उसके खिलाफ अपहरण और पोक्सो एक्ट के तहत रेप का मामला दर्ज किया गया है। सूरत में मासूम से दरिंदगी का 4 दिन में यह दूसरा मामला है। इससे पहले 10 अगस्त को 10 साल की बच्ची के साथ 52 साल के मकान मालिक ने रेप किया था। दोनों बच्ची सिविल अस्पताल के एक ही वार्ड में भर्ती हैं।

पिता के दोस्त ने की बच्ची से दरिंदगी

– आरोपी महेंद्र उर्फ मंगल सिंह और बच्ची के पिता धागा बनाने वाली फैक्टरी में साथ काम करते हैं।

– एफआईआर के अनुसार, सोमवार की शाम महेंद्र ने चिकन बनाने के लिए बच्ची के पिता को पैसे दिए। लेकिन पत्नी का व्रत होने के कारण मासूम के पिता ने पैसे लौटा दिए। इसके बाद शाम करीब 7 बजे महेंद्र उनके घर पहुंचा और बच्ची की मां को खाना बनाने को कहा। उस वक्त महिला का पति उसी कैंपस में आरोपी के घर के बगल में रहने वाले साथी से मिलने गया था। इसी बीच आरोपी बच्ची को खिलाने के बहाने बाहर ले जाने लगा। मां ने टोका तो महेंद्र चला गया। रात 9 बजे वह फिर घर पहुंचा।

आरोपी बोला-बच्ची के पिता के साथ शराब पी, उसी के घर रेप किया, माफ कर दो…

मंगलवार रात को आरोपी महेंद्र सिंह को मेडिकल के लिए सिविल अस्पताल लाया गया। पूछताछ के दौरान उसने डॉक्टर को बताया- उसने बच्ची के पिता के साथ ही रात में शराब पी थी। फिर उसी के घर की छत पर सो गया। वहीं उसने बच्ची के साथ दरिंदगी की। वह बार-बार माफी भी मांग रहा था। उसने यह भी कहा- बच्ची का पिता उसका सगा साढू है। हालांकि मासूम के पिता और उसकी पत्नी ने इससे इनकार किया है।

महेंद्र बेटी को ले गया, अपने घर पर दुष्कर्म किया: पिता

”मेरी बेटी को रात 9 बजे महेंद्र उठाकर ले गया। उसे ढूंढते हुए बाहर गया तो सुरक्षाकर्मी ने बताया कि महेंद्र बच्ची को अपने रूम पर ले गया है। महेंद्र के भाई से पूछा तो उसने जानकारी से इनकार किया। मैं वहीं बैठ गया। इसी दौरान बच्ची के रोने की आवाज आई। ऊपर गया तो महेंद्र अंधेरे में भाग गया। बेटी को गोद में लिया तो मेरा हाथ में खून से लाल हो गया। महेंद्र के भाई ने कहा- उसे कोई लेना-देना नहीं है। मैंने फिर अपनी कंपनी के मालिक को इसकी सूचना दी। उन्होंने ही आरोपी को फोन कर बुलाया। उसे देख मेरी पत्नी ने चप्पल से उसकी पिटाई कर दी। मैंने भी गला पकड़ लिया। लेकिन सेठ ने हमें समझाया और पुलिस को बुला लिया।”

चींटी काट रही है, ऐसा बोल रोने लगती है बच्ची: मां

”मेरी फूल जैसी बेटी की ये क्या हालत कर दी। महेंद्र बेटी को घर से ले गया। उसने कहा कि वह उसके पिता के पास ले जा रहा है। लेकिन वह ऐसा करेगा, सोचा नहीं था। मासूम बेटी को पता ही नहीं कि उसके साथ क्या हुआ है। वह चींटी काट रही, ऐसा कहकर रोने लगती है। खून लगातार निकल रहा था। रात में ही उसे अस्पताल ले गए। सुबह 4 बजे तक करीब 7 घंटे तक खून निकलता रहा। इलाज के बाद मंगलवार सुबह बच्ची को राहत मिली। अगर 5 मिनट और देरी से मेरे पति महेंद्र के घर पहुंचते तो उसके रोने की आवाज ही नहीं सुनाई देती और मेरी बेटी शायद नहीं बच पाती।”