बहू ने आशिक के साथ मिलकर किया सास का मर्डर

74
mother-in-law-murdered by-daughter-in-law

अमृतसर। दो साल पहले आशिक के साथ मिलकर सास का कत्ल करने वाली बहू को पुलिस ने मंगलवार को गिरफ्तार किया। आरोपी का नाम शगुनप्रीत कौर है। मरने वाली महिला का नाम राजविंदर कौर (59) था। बेटे के निधन के बाद वह बहू के साथ रहती थी। ऑस्ट्रेलिया में रहने वाली राजविंदर की बेटी कुलदीप ने इंडिया आकर केस दर्ज करवाया। पुलिस ने जब शगुनप्रीत और उसके आशिक सतनाम को गिरफ्तार किया तो उन्होंने अपना जुर्म कबूल कर लिया।

ग्रामीणों की सूचना पर ऑस्ट्रेलिया से आई ननद

– कुलदीप कौर के अनुसार, उसकी शादी 2008 में हुई। वह पति के साथ आॅस्ट्रेलिया चली गई। उसके इकलौते भाई सरबजीत का विवाह शगुनप्रीत कौर के साथ हुआ।

– 2015 में भाई सरबजीत की अचानक मौत हो गई। 29 अक्टूबर 2016 को शगुनप्रीत ने उसे फोन करके बताया कि मम्मी की शुगर अचानक कम हो जाने पर वह उन्हें अस्पताल ले गई जहां उन्होंने दम तोड़ दिया।

– वह उस समय गर्भवती थी इसलिए मां के संस्कार पर नहीं आ सकी। भाई और मां के निधन के बाद उसने इंडिया आने का ख्याल भी छाेड़ दिया। कुछ दिन पहले गांव के लोगों ने उसे फोन करके बताया कि उसकी मां की मौत स्वाभाविक नहीं थी बल्कि उनका कत्ल किया गया था। इस पर वह इंडिया लौटी और पुलिस में शिकायत दर्ज कराई।

मुंह पर तकिया रखकर घोंट दिया था दम…

कुलदीप कौर के अनुसार, सास के कारण शगुनप्रीत अपने आशिक सतनाम से नहीं मिल पाती थी। इसलिए दोनों ने उसकी हत्या की साजिश रची। उन्होंने जसबीर सिंह को ढाई लाख रुपए का लालच देकर इसमें शामिल कर लिया। 29 अक्टूबर को तीनों ने तकिये से उसकी मां का गला घोंट दिया। उसे संदेह है कि उसके भाई सरबजीत सिंह की मौत भी नेचुरल नहीं थी क्योंकि भाभी के 2013 से ही सतनाम से संबंध थे जिसका पता उनके परिवार को नहीं था।

हत्या के बाद रकम देने से टालमटोल कर रहे थे दोनों…

राजविंदर कौर की हत्या के बाद सतनाम उसी घर में शगुनप्रीत के साथ रहने लगा। जसबीर जब भी उनसे अपनी रकम मांगता, दोनों टालमटोल कर जाते। इससे जसबीर नाराज चल रहा था। कुछ दिन पहले जसबीर ने गांव के एक व्यक्ति के साथ बैठकर शराब पी और नशे में पूरा राज उसके सामने उगल दिया। उसी व्यक्ति ने आॅस्ट्रेलिया में रहने वाली राजविंदर कौर की बेटी को सूचना दी जिसके बाद कुलदीप ने भारत आकर मामला दर्ज करवाया।