बहू के बगल में सो गया ससुर, बोला- मान जा वरना तुझे मार दूंगा जख्म को भरने लगाने पड़े 275 टांके

0
1185
daughter-in-law-accused of dushkarm try by father in law

चूरू (राजस्थान)। शहर के वार्ड 6 में रहने वाले एक 50 वर्षीय व्यक्ति ने सोमवार रात अलग मकान में रह रही अपनी 30 वर्षीय बहू के साथ दुष्कर्म का प्रयास किया। विरोध करने पर उसने बहू पर चाकू से 50 से अधिक वार किए। आस-पास के लोगों को पता चलने पर आरोपी ने जहरीला पदार्थ खा लिया। इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। पुलिस के अनुसार, डीबी अस्पताल में भर्ती महिला के बयान के आधार पर ससुर के खिलाफ मामला दर्ज किया है। ज्यादा खून बह जाने से महिला की हालत गंभीर बनी हुई है। बयान के बाद महिला बेहोश हो गई।

पीड़िता की जुबानी: कमरे का दरवाजा अंदर से बंद था, खिड़की से अंदर घुसा

– पीड़िता ने बताया, ‘मैं पिछले 4 साल से सास-ससुर से अलग बच्चों और पति के साथ रहती हूं। मेरी शादी को 11 वर्ष हो चुके हैं। दो बच्चे हैं। पति 4 दिन से जयपुर गए हुए थे। रात को मैं और बच्चे घर पर थे। रात को ससुर मेरे घर आया। पूछने पर बताया कि वह बच्चों के साथ सोने आया है।’

– ‘रात करीब 11 बजे मैं ऊपर के कमरे में जाकर सो गई और कुंडी लगा ली। ससुर बच्चों के साथ बाहर बरामदे में सो गया। देर रात ससुर खिड़की से मेरे कमरे में आ गया और मेरे पास आकर सो गया।’

– ‘मैंने विरोध किया और बाहर जाने को कहा तो बोला- तेरे साथ गलत काम करुंगा। तेरे पति को इसलिए जयपुर भेजा है…। ऐसा कहकर वह मेरे साथ जोर जबरदस्ती करने लगा। मैंने जोर से धक्का देकर उसे बिस्तर से नीचे गिरा दिया और शोर मचाने लगी। तभी उसने मुझे डराने के लिए चाकू निकाल ली और कहने लगा- मान जा वरना तुझे मार दूंगा। आज गलत काम करके ही रहूंगा।’

– ‘मैंने विरोध किया और शोर मचाया तो वह चाकू से मुझ पर वार करने लगा। मेरे सिर, माथे, गले, पीठ, चेहरे, कोहनी व दोनों हाथों पर वार किए। शोर सुनकर बच्चे भी उठ गए। हम चिल्लाने लगे तो वह छत से नीचे उतरकर चला गया। इसके बाद मैं मदद के लिए पड़ोसियों के यहां गई। तब उन लोगों ने मुझे अस्पताल में भर्ती कराया।’

शरीर पर 50 से ज्यादा जख्म, लगाने पड़े 275 टांके

डीबी अस्पताल के सर्जन डॉ. संदीप अग्रवाल ने बताया, महिला के शरीर पर लगभग 50 घाव थे। घावों को भरने के 275 टांके लगाने पड़े।

बहू को लहूलुहान करने के बाद आरोपी ने खाया जहर…

– आरोपी ससुर की जहरीला पदार्थ खाने से हुई मौत को लेकर रिपोर्ट दर्ज हुई। मृतक के भाई ने रिपोर्ट दी कि उसका बड़ा भाई खाना खाकर अपने बेटे के घर चला गया। रात दो बजे उसकी भाभी का फोन आया कि भाई ने कुछ खा लिया है, जिससे उसकी तबीयत खराब हो गई। वह भतीजे को लेकर पहुंचा, तो उसके भाई के मुहं से झाग निकल रहे थे। बेहोशी की हालत में उसे डीबी अस्पताल मेंभर्ती करवाया, जहां पर उसकी मौत हो गई।

– महिला थाने के एसएचओ राजकुमार राजौरा ने बताया, महिला के अस्तपाल में बयान ले लिए गए हैं। आगे की जांच हम कर रहे हैं।

(रिश्तों को शर्मसार करने वाली ये घटना पाठकों तक पहुंचानी जरूरी है, इसलिए प्रकाशित की जा रही है। पीड़िता व आरोपी की पहचान गोपनीय रखी गई है।