पीड़िता ने कहा- अगर मैं बेहोश न हुई होती तो शायद वो मुझे जला चुके होते

98
Datia Madhya Pradesh News in Hindi :woman beaten by husband and In-laws for dowry,mp News in Hindi,मध्य प्रदेश समाचार,मध्य प्रदेश न्यूज़,दतिया न्यूज़,datia News in Hindi,Hindi News,Hindi Samachar,Madhya Pradesh

सिर्फ एक डिमांड पूरी न हुई तो पति ने माता-पिता के साथ मिलकर पत्नी को पीटा, इतने जुल्म ढाए कि पूरे शरीर पर बन गए गहरे जख्म

पढ़िए महिला की आपबीती उसी की जुबानी… अगर मैं बेहोश नहीं होती तो शायद मुझे जलाकर ही मार देते 

दतिया (मध्य प्रदेश)आलोक बघेल ने अपने माता पिता के साथ मिलकर अपनी पत्नी मीरा (25) को इतनी बेरहमी से पीटा कि उसके पूरे शरीर पर घाव बन गए। सिर से पैर तक एक भी ऐसा हिस्सा नहीं है, जहां चोट या घाव न हो। यहां तक कि उसका सिर भी फोड़ दिया। सिर्फ इतना ही नहीं, अधमरी हालत में आने पर आरोपियों ने उस पर मिट्‌टी का तेल डालकर आग लगाने का प्रयास किया लेकिन वह बेहोश हो गई तो तीनों उसे मरा समझकर कमरे में बंद कर भाग गए। घटना सोमवार सुबह 11 बजे की है। मीरा जब होश में आई तो उसने मोबाइल फोन से डायल-100 को कॉल किया। मौके पर पहुंची पुलिस ने मीरा को जिला अस्पताल पहुंचाया। वर्तमान में वह सर्जिकल वार्ड में स्थित आईसीयू में भर्ती है। इस दरिंदगी की वजह दहेज में कार न मिलना बताई गई है। महिला अस्पताल में जिंदगी और मौत के बीच झूल रही है।

यह भी पढ़ें :- पहले भेजता था कॉलगर्ल, फिर चुपके से आपत्तिजनक हालत में बनाता…

पढ़िए महिला की आपबीती उसी की जुबानी… अगर मैं बेहोश नहीं होती तो शायद मुझे जलाकर ही मार देते
”आलोक बघेल की दूसरी पत्नी हूं। पहली पत्नी को आलोक ने मारपीट कर घर से भगा दिया था। इसके बाद 6 मई 2017 को मेरा विवाह आलाेक के साथ हुआ था। शादी के बाद कुछ दिन तक सब कुछ ठीक रहा। इसके बाद परिवार में आए दिन लड़ाई झगड़ा होने लगा। सास, ससुर और पति आलोक मायके से कार लाने की मांग करते हैं। मेरा परिवार (मायका) बेहद गरीब है। इस कारण वे ससुराल पक्ष के लोगों की मांग पूरी नहीं कर पाए। सोमवार की सुबह 11 बजे के करीब ससुर श्यामलाल, सास रमावती और पति आलोक ने पहले मुझे लेजम, लाठी डंडों से पीटा, फिर सिर में चाकू मार दिया, जिससे सिर फट गया। मुझे इतना पीटा कि पेट, हाथ, पैरों पर भी कई जगह गहरे घाव बन गए। जब मारपीट करने से भी उनका मन नहीं भरा तो पति ने मिट्‌टी का तेल डालकर आग लगाकर मुझे मारने का प्रयास किया, लेकिन अधिक मारपीट के कारण मुझे बेहाेशी आ गई। शायद तीनों मरा हुआ समझकर उसे कमरे में बंद कर भाग गए। करीब एक घंटे बाद जब मुझे होश आया तो मैंने खुद को कमरे में बंद पाया। घिसटते हुए अलमारी तक पहुंची और वहां रखा मोबाइल उठाकर 100 नंबर डायल कर पूरी घटना बताई। अगर मैं बेहोश नहीं होती तो शायद तीनों जल्लाद मुझे जिंदा जलाकर मार डालते।”

यह भी पढ़ें :- लड़की बोली- 3 साल से कर रहा था रेप, शादी फिक्स…

मायके पक्ष के लोग ही कर रहे देखभाल, ससुराल पक्ष का कोई भी व्यक्ति देखने तक नहीं पहुंचा
मीरा की सूचना पर कुछ ही देर में डायल-100 पुलिस पंचशील नगर पहुंच गई। पुलिसकर्मी उसे अस्पताल ले गए। यहां प्राथमिक इलाज के बाद उसे गंभीर हालत होने के कारण सर्जिकल वार्ड स्थित आईसीयू में भर्ती करा दिया गया। खबर मिलने पर विलौनी में रहने वाले मायके पक्ष के लोग भी अस्पताल पहुंच गए। वे ही उसकी देखभाल कर रहे हैं। घटना के 24 घंटे बाद भी ससुराल पक्ष का कोई भी व्यक्ति उसे देखने तक नहीं पहुंचा है।

आरोपियों पर गंभीर धाराओं में प्रकरण दर्ज कर रहे हैं
महिला को सीधे अस्पताल ले जाया गया था। इसलिए रिपोर्ट लिखने में देरी हुई। अस्पताल से तहरीर आ गई और गंभीर धाराओं में प्रकरण दर्ज किया जा रहा है। पूरे मामले में वैधानिक कार्रवाई कर आरोपियों की गिरफ्तारी कराएंगे।
मनजीत सिंह चावला, एएसपी दतिया

यह भी पढ़ें :- 15 साल की स्टूडेंट को कोल्ड ड्रिंक पिलाकर किया बेहोश, फिर…

यह भी पढ़ें :- जब लड़की के पीछे से प्राइवेट पार्ट को छूकर इस तरह…

यह भी पढ़ें :- दोस्तों के साथ मिलकर पति करता रहा दरिंदगी, वो रातभर दर्द…


Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें फेसबुक पर ज्वाइन करें