पत्नी ने 4 बेटियों के साथ मिलकर कराया दरोगा पति का मर्डर, दिलवाना चाहती थी बेटी को अनुकंपा नौकरी

0
402
aajtaklives hindi news

शाहजहांपुर (यूपी).शहर में 24 जून को नाले में मिली दरोगा की लाश मामले में बड़ा खुलासा हुआ है। आरोप है कि बेटियों के साथ मिलकर पत्नी ने ही एक लाख रुपए की सुपारी देकर दरोगा की हत्या करवाई थी। आरोपी पत्नी का कहना है कि पति बेटियों के पहनावे और उनके ऊपर शक करता था। बेटी की अनुकंपा नियुक्ति के लिए उसका मर्डर करवा दिया। आरोपी बेटियों व पत्नी को कोर्ट में पेश करने के बाद जेल भेज दिया गया है। पुलिस हत्या को अंजाम देने वाले दो सुपारी किलर की तलाश में जुट गई है। पत्नी के बहनोई से थे अवैध संबंध…
Advertisement





– रविवार को थाना सदर बाजार के एमन जई जलाल नगर इलाके में दरोगा मेहरबान अली खां की लाश नाले में पड़ी मिली थी। मृतक पुलिस लाइन में वायरलेस ऑफिस में तैनात थे। परिजनों ने हत्या का आरोप लगाया था। जिसके बाद मृतक दरोगा के दामाद की तहरीर पर पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी।
– एसपी ग्रामीण सुभाष चंद्र शाक्य ने बताया कि मृतक दरोगा के घर के सामने उसके दामाद के घर सीसीटीवी लगा था। पुलिस ने जब फुटेज खंगाला, तो दो युवक मुजफ्फरनगर आते दिखाई दिए।
– पुलिस ने परिजनों से उनके बारे में पूछा, तो वो गुमराह करने लगे। सख्ती से पूछताछ में पत्नी जाहिदा टूट गई और उसने बहनोई से अवैध संबंध होने की बात कबूली। दरोगा को पति को इसका पता चल गया था, जिसे लेकर दोनों के बीच विवाद होता था।

पत्नी बोली- बेटियों से करता था गालीगलौज
– आरोपी पत्नी ने बताया कि उसकी चार बेटियां हैं। पति उनके पहनावे का विरोध करता था। बेटियों के रहन-सहन को लेकर भी उसे तकलीफ थी।
– ‘आएदिन मुझसे और मेरी बेटियों को भद्दी-भद्दी गालियां देता था। परेशान होकर हमने उसकी हत्या का प्लान बनाया। फिर मुजफ्फरनगर में रहने वाले रिश्तेदार कासिम और तहसीन को हत्या के बदले एक लाख रुपए देने की बात की।’
– ‘इसके बाद वो भी हमारे प्लान में शामिल हो गए। 23 जून को दोनों घर आ गए। फिर ड्यूटी से लौटे पति का गला दबाकर बेहोश कर दिया। फिर दीवार पर उनका सिर तब तक मारा, जबतक मौत नहीं हो गई।’
Advertisement





पति से छुटकारा पाकर बेटी को दिलाना चाहती थी अनुकंपा नौकरी
– हत्या के बाद करीब 11 घंटे तक मां-बेटियों ने शव को घर में छुपाकर रखा। उसके बाद दोनों युवकों की मदद से रात में बाइक से बॉडी ले जाकर नाले में फेंक दी।
– आरोपी पत्नी का कहना है कि पति से छुटकारा पाकर बेटी को अनुकंपा नौकरी दिलवाना चाहती थी। सुपारी में दी गई रकम में से 65 हजार रुपए आरोपी पत्नी ने 5 जून को पति के खाते से निकाले थे। बाकी पैसे बाद में देने की बात हुई थी।

अफेयर के कारण हुई थी बेटी की हत्या
– दो महीने पहले मृतक की एक बेटी की हत्या कर दी गई थी। बड़ी बेटी का अफेयर अरशद नाम के युवक से चल रहा था। लेकिन इसी बीच अरशद को उसकी छोटी बहन जीनत पसंद आ गई। इस कारण ट्यूशन से लौटते वक्त उसने बड़ी बहन की गोली मारकर हत्या कर दी थी।