तुम ना तो शादी करोगी, ना ही मुझे छोड़ोगी तुम मेरी हत्या करवाकर ही मानोगी

0
145
aajtaklives news, news in hindi, hindi news, crime news in hindi,bank manager murder case in jaipur

जयपुर। 19 सितंबर को एक पत्नी ने प्रेमी के हाथों पति की गोली मरवाकर हत्या करवा दी। घटना के कुछ दिन पहले पति ने भविष्यवाणी करते हुए कहा था- मैं भले ही तेरे हर गुनाहों को माफ कर रहा हूं, इसके बदले में तू मुझे मौत ही देगी। क्योंकि तू हर बार मेरा भरोसा तोड़ रही हो। यह सबकुछ जयपुर के करधनी के बैंक मैनेजर रोशनलाल के साथ हुआ…। बार-बार धोखा खाने के बाद भी बैंक मैनेजर पति रोशनलाल अपनी पत्नी निर्मला उर्फ नीरू पर आंख मूंदकर भरोसा करता रहा। बच्चों के भविष्य के चलते वह अपनी पत्नी की शादी उसके प्रेमी उमेश से कराने को तैयार हो गया। पत्नी के प्रेमी के साथ भाग जाने पर भी उसने उसे अपनाए रखा।

क्राइम सीरियल देख निर्मला ने रची कत्ल की साजिश
निर्मला जब भी घर में अकेली रहती थी, तब वह पूरे दिन क्राइम सीरियल देखा करती थी। इसी से उसने रोशन की हत्या की साजिश रची। उमेश भी मान गया। उमेश ने अपने छोटे भाई राहुल को रोशन की हत्या का जिम्मा सौंपा।

शार्प शूटर पप्पू हिरासत में, 5 आरोपी 5 दिन के रिमांड पर
इस हत्याकांड में शामिल शार्प शूटर पप्पू को पुलिस ने मंगलवार को उत्तरप्रदेश के फीरोजाबाद के पास से हिरासत में लिया है। अभी हत्या के मुख्य आरोपी राहुल अौर उमेश का भांजा मनीष फरार है। एसीपी आश मोहम्मद ने बताया कि मंगलवार को कोर्ट ने आरोपी निर्मला उर्फ नीरू, प्रेमी उमेश शर्मा, महेन्द्र प्रताप सिंह उर्फ टीटू, आकाश रावत व शिवकांत उर्फ लालू को 5 दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया।

पहला धोखा: पत्नी की प्रेमी से शादी कराने कोर्ट पहुंचा, प्रेमी आया ही नहीं
उमेश और निर्मला के अवैध संबंधों के बारे में सबसे पहले उमेश की पत्नी ने राेशन को बताया। अगले दिन घर में नया मोबाइल चार्ज पर लगा देखा तो पत्नी से पूछा। पत्नी ने बताया कि यह उमेश ने दिया। रोशन ने पत्नी से उसका लॉक खुलवाया। निर्मला और उमेश के बीच हुई वॉट्सअप चैटिंग देखकर उमेश की पत्नी का कहा याद आया। तीन बच्चों के भविष्य और प्रतिष्ठा के कारण रोशन चुप रहा। वह निर्मला की शादी उमेश से कराने के लिए तैयार हो गया। पति-पत्नी कोर्ट पहुंच गए लेकिन प्रेमी उमेश वहां नहीं आया।

दूसरा धोखा: पत्नी के साथ दुष्कर्म का केस कराने थाने पहुंचा, पत्नी मुकरी
कोर्ट से आने के कुछ दिन तक तो निर्मला उमेश से नहीं मिली लेकिन कुछ दिन बाद ही वह फिर उससे चोरी-छिपे मिलने लगी। एक दिन रोशन ने जब दोनों को साथ देख लिया तो निर्मला ने कहा कि उमेश ने उसके साथ जबरदस्ती की है। तब रोशन ने कहा कि यदि जबरदस्ती की है तो फिर उमेश के खिलाफ रेप का केस दर्ज कराने चलो। निर्मला थाने भी पहुंच गई लेकिन वहां उमेश के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराने से पहले ही वह बदल गई। इसके बाद वह आगे से उमेश से ना मिलने का वादा कर रोशन को मनाकर बिना रिपोर्ट दर्ज कराए घर आ गई।

तीसरा धोखा: ढाई साल के बेटे को लेकर प्रेमी के साथ भागी, फिर लौटी
थाने से लौटने के कुछ दिन तक घर में शांति रही लेकिन फिर निर्मला पुरानी राह पर चल पड़ी। उमेश से मिलने का सिलसिला फिर शुरू हो गया। एक साल पहले वह अपने ढाई साल के बेटे को गोद में लेकर प्रेमी उमेश के साथ भागने के लिए घर से निकल गई। निवारू रोड पर उमेश से मिलने के बाद वह अपने रिश्तेदार के यहां चली गई। रोशन को पता चला तो घर टूटने से बचाने के लिए वह उसे फिर मनाकर घर ले आया।

कत्ल की कहानी के 3 किरदार… पत्नी शादी के समय 11वीं तक पढ़ी थी, पति ने एमए तक पढ़ाया
2004 में रोशनलाल की 6 साल छोटी निर्मला से शादी हुई, तब वह 11वीं में पढ़ रही थी। ससुराल आने के बाद रोशनलाल ने उसे एमए तक पढ़ाया और फैशन डिजाइनिंग भी करवाई। 14 साल के वैवाहिक जीवन में निर्मला एशो-आराम करती रही। रोशनलाल की जहां भी पोस्टिंग हुई वह वहां निर्मला को साथ लेकर गया। 8 साल पहले जयपुर में पोस्टिंग होने पर रोशनलाल ने करधनी में मकान बनाया। उमेश ने भी पड़ोस में मकान बना लिया। दोनों ने एक ही दिन गृहप्रवेश किया। अपनी बेटियों का एडमिशन भी दोनों ने एक ही स्कूल में करवाया।

पति, राेशनलाल ने 6 माह पहले ही जता दिया मौत का अंदेशा
पति रोशनलाल के बार-बार समझाने पर भी निर्मला ने उमेश से मिलना नहीं छोड़ा। छह माह पहले दोनों में उमेश को लेकर जमकर झगड़ा हुआ। इसी दौरान रोशनलाल ने अपने परिवार के सामने ही निर्मला से यह भी कहा था कि तुम ना तो उमेश के साथ शादी करोगी, ना ही मुझे छोड़ोगी। उसने बोला कि तुम मेरी हत्या करवाकर ही मानोगी। पड़ोसी भी दाेनों के बीच झगड़े की बात की गवाही दे रहे हैं।

वो यानी प्रेमी, उमेश ने अपनी पत्नी के जरिए निर्मला से बढ़ाई नजदीकी
2016 में उमेश की पत्नी निर्मला को अपने घर बुलाने लगी। इसके बाद उसी साल उमेश व रोशन सहित कॉलोनी के चार परिवार शिमला घूमने गए। इस दौरान उमेश ने निर्मला से नजदीकी बढ़ा ली। शिमला से लौटने के कुछ दिन बाद निर्मला के भाई की मौत हो गई तब सांत्वना देने के लिए उमेश का पूरा परिवार बार-बार मिलने लगा। इसके बाद दोनों के बीच संबंध बन गए। दोनों पहले छिप-छिपकर मिलते फिर उनके संबंध सरेआम हो गए।

19 सितंबर को पत्नी मरवाई थी पति को गोली…

शहर के करधनी इलाके में बैंक मैनेजर रोशन लाल की हत्या में उसकी पत्नी का ही हाथ निकला। दो बेटियों के भविष्य को दांव पर लगाकर उसने अपने प्रेमी के साथ मिलकर पति की जिंदगी का सौदा कर लिया। पुलिस ने 24 सितंबर को बैंक मैनेजर की हत्या के मामले में पत्नी निर्मला और उसके प्रेमी उमेश सहित 5 आरोपियों को गिरफ्तार किया। नीरू ने ही अपने प्रेमी पर दबाव बनाकर शूटरों के जरिए 19 सितंबर को रोशन लाल की गोली मारकर हत्या करवाई थी।