ट्रिपल मर्डर : पहले हथौड़े से तीनों के सिर पर किया वार, फिर काटा गला

25
aajtaklives news, news in hindi, hindi news, crime news in hindi, Triple Murder, Chandausi, Police Inspector, Hammer, cut Throat,ट्रिपल मर्डर, चंदौसी , पुलिस इंस्पेक्टर , हथौड़े , काटा गला,Hindi News, News in Hindi

ट्रिपल मर्डर : पहले हथौड़े से तीनों के सिर पर किया वार, फिर काटा गला

गुरु तेगबहादुर कालोनी में पुलिस इंस्पेक्टर के घर में हुए तिहरे सनसनीखेज हत्याकांड को अंजाम देने वाले कातिलों ने तीनों की हत्या का एक ही तरीका अपनाया। बारी-बारी तीनों के सिर पर पहले हथौड़े से वार किए और फिर धारदार हथियार से गला काट कर मौत के घाट उतार दिया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में इसका खुलासा हुआ है।
गुरु तेगबहादुर कालोनी निवासी पुलिस इंस्पेक्टर स्व. सत्यपाल सिंह की पत्नी संतोष सिंह, पत्नी के चचेरे देवर केसर सिंह और नौकरानी की घर में ही कातिलों ने धारदार हथियार से गला रेत कर निर्मम हत्या कर दी थी। शुक्रवार की रात नौ बजे करीब हत्याकांड की जानकारी उस समय हुई जब संतोष देवी की बड़ी बेटी रश्मि सिंह निवासी गुड़गांव अपनी मां से मोबाइल पर संपर्क कर रही थी। लेकिन मोबाइल कॉल रिसीव न होने से रश्मि सिंह की सूचना पर पड़ोस रिश्तेदार अनुराग सिंह घर पहुंचे। घर में खून से लथपथ तीनों लाशें पड़ी थीं। पुलिस ने देर रात संतोष देवी के भाई राजबहादुर निवासी गांव राजा का मझौला थाना बहजोई की तहरीर पर अज्ञात के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लाशें पोस्टमार्टम के लिए भेज दी थीं। शनिवार की शाम तक पोस्टमार्टम हो सका। पोस्टमार्टम में तीनों के सिर की हड्डी टूटी पायी गई। वहीं हत्या का समय गुरुवार की देर शाम होने की पुष्टि हुई है। पुलिस को घटनास्थल से खून से सना एक हथौड़ा भी मिला है। जिससे साफ है कि कातिलों ने पहले तीनों के सिर पर हथौड़े से वार किए और फिर काबू में आने पर तीनों के धारदार हथियार से गला रेत दिया।

यह भी पढ़ें : एड्स पीड़ित बाप ही 6 साल से लूटता रहा बेटी की अस्मत

हत्या से पहले संतोष देवी ने नहीं खाया था खाना
हत्या से पहले संतोष देवी ने खाना भी नहीं खाया था। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में संतोष देवी के पेट में खाना नहीं मिला है। जबकि नौकरानी श्रुति और देवर केसर सिंह के पेट में भोजन मिला है। आशंका है कि हत्याकांड को गुरुवार की देर शाम आठ बजे के करीब अंजाम दिया गया है। उस समय ही खाना खाया जा रहा होगा। संतोष देवी ने कुछ समय बाद खाना खाने की बात कही होगी।

बड़ी बेटी ने ही दो सप्ताह पहले भेजी थी नौकरानी, शिनाख्त हुई
तिहरे हत्याकांड में नौकरानी की शिनाख्त हो गई है। नौकरानी श्रुति (20) पुत्री सीताराम मेहतो निवासी ग्राम नूर चिड़िया थाना घाटू जिला समस्तीपुर प्रांत बिहार के रूप में शिनाख्त हुई है। श्रुति अपने पिता और माता सुशीला के साथ गुड़गांव में रह रही थी। दो सप्ताह पहले ही संतोष देवी की गुरुग्राम निवासी बड़ी बेटी रश्मि सिंह ने ही श्रुति को अपनी मां की सेवा के लिए भेजा था। शनिवार की देर शाम तीनों शव गांव राजा का मझौला पहुंचे। जहां श्रुति के परिजन शव गुड़गांव ले गए और केसर सिंह का शव उसके भाई बुलंदशहर के गांव महमूदपुर ले गए हैं।

यह भी पढ़ें : बरेली: 10 दिन तक 7वीं की छात्रा से किया रेप, फिर उसे बेच दिया


Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें फेसबुक पर ज्वाइन करें