अंतिम संस्कार करने से पहले हुए EXPOSE, जानिए आखिर क्या हुआ था उस रात

22
Rajasthan news in hindi,Shriganganagar News,Shriganganagar samachar,Rajasthan News,Rajasthan samachar,Rajasthan news in hindi,aajtak live Rajasthan news, Shriganganagar News,राजस्थान न्यूज़,राजस्थान समाचार,श्रीगंगानगर न्यूज़,श्रीगंगानगर समाचार,आजतक लाइव,राजस्थान न्यूज़ इन हिंदी,आजतक लाइव,आजतक लाइव इ पेपर, Sriganganagar Rajasthan News in Hindi: owner killing case Three brother killed sister because of love affair,Rajasthan, Sriganganagar, Om Prakash, Honor Killing

3 भाइयों ने अपनी ही लाडली बहन को दी दर्दनाक मौत; 2 दिन पहले रात को जब खुली थी एक भाई की नींद, बिस्तर से उठा भी नहीं था कि समझ गया था पूरा माजरा

अंतिम संस्कार करने से पहले हुए EXPOSE, जानिए आखिर क्या हुआ था उस रात

श्रीगंगानगर (राजस्थान) गुरुवार रात्रि हुई युवती की हत्या के आरोप में पुलिस ने शनिवार को मृतका के तीन भाइयों को गिरफ्तार कर लिया है। युवती कृष्णा पुत्री कुंभाराम नायक की हत्या के बाद परिजन शुक्रवार सुबह अंतिम संस्कार की तैयारी कर रहे थे। इस बीच कंट्रोल रूम से सूचना के बाद अनूपगढ़ पुुलिस मौके पर पहुंच गई। इससे ऑनर किलिंग का खुलासा हुआ। दरअसल युवती के दुर्गाराम से प्रेम संबंध थे। इसके चलते वह अपनी सहेली परिवार के लोगों का चकमा देकर अपनेे दोस्तों के साथ चली जाती थीं। दोनों युवक उन्हें रात को ही गांव वापस छोड़ जाते थे। मृतका के भाई ने ही इस संबंध में हत्या का मामला दर्ज करवाया था। हालांकि एफआईआर में बताई कहानी और मृतका के सिर में आई चोट से मृतका के भाई संदेह के घेरे में थे। पुलिस ने मृतका के तीनों भाइयों को राउंडअप कर सख्ती से पूछताछ की तो उन्होंने हत्या करना स्वीकार कर लिया। पुलिस ने मृतका के भाई ओमप्रकाश, अनिल कुमार व आत्माराम को हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया है।

यह भी पढ़ें :- सिर्फ इसलिए सबकुछ सहती रही बेटी, दरिंदे बाप ने रखी थी एक शर्त

रात में कृष्णा को उसकी सहेली व दो युवकों के साथ कार में देख गुस्सा गए थे तीनों आरोपी
पूछताछ में खुलासा हुआ कि मृतका के दुर्गाराम नामक युवक से प्रेम प्रसंग चल रहा था। इसी के चलते गुरुवार रात दुर्गाराम निवासी 15 ए और कुलविंद्र सिंह निवासी प्रेमनगर अनूपगढ़ दोनों कृष्णा और उसकी एक अन्य सहेली अपने साथ कार में लेे गए। रात को कृष्णा के भाई ओमप्रकाश की नींद खुली तो उसने देखा कि बहन घर में नहीं थी। इस पर ओम प्रकाश, उसके भाई आत्माराम व अनिल कुमार ने रात्रि में ही कृष्णा की तलाश शुरू की। शुक्रवार तड़के 3 बजे दुर्गाराम और कुलविंद्र सिंह दोनों युवतियों कृष्णा व उसकी सहेली को वापस 15 ए गांव छोड़ने आए। ओमप्रकाश ने कार को देखकर रुकवाने का प्रयास किया। युवकों ने कार नहीं रोकी। कार को घर के पास ले गए। कार से कृष्णा, उसकी सहेली और दुर्गाराम उतरे और अपने-अपने घर में घुस गए। कुलविंद्र सिंह कार लेकर वापस चला गया। इसी दौरान कृष्णा के तीनों भाई अपने घर पर आ गए। बहन के प्रेम संबंधों से गुस्साए तीनों भाइयों पहले कृष्णा के साथ मारपीट की। कृष्णा के सिर में लाठी से वार किया और फिर गला दबाकर हत्या कर दी।

हत्या करने वाले ने ही दर्ज करवाई थी एफआईआर
शुक्रवार को मृतका के भाई व आरोपी ओमप्रकाश ने एफआईआर में बताया कि कृष्णा गुरुवार-शुक्रवार रात घर से गायब थी। जब तलाशते हुए गांव में गए तो वह सड़क पर खून से लथपथ पड़ी थी। एफआईआर में बताया कि प्रेम संबंध के चलते कृष्णा व उसकी सहेली परिजनों को नशे की गोलियां खिलाकर अपने प्रेमियों के साथ चली जाती थीं। ओमप्रकाश ने मृतका की सहेली के हवाले से बताया था कि घटना की रात गांव लौटने के बाद गाड़ी में दोनों युवकों के साथ धक्का-मुक्की हो गई। इसी दौरान कृष्णा सड़क पर गिर गई और उसकी सहेली अपने घर चली गई थी। प्रारंभिक पूछताछ में खुलासा हुआ कि तीनों भाई कृष्णा के प्रेमी को भी सबक सिखाना चाहते थे। लेकिन युवकों ने कार नहीं रोकी। बाद में कृष्णा का प्रेमी दुर्गाराम अपने घर चला गया और उसका साथी कार लेकर वापस चला गया। जिससे वह बच गया।

यह भी पढ़ें :- युवक से टीचर ने जबरदस्ती बनाये 40 बार संबंध लेकिन…

यह भी पढ़ें :- 13 साल की बेटी के साथ रेप करता था पिता, बेटी…


Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें फेसबुक पर ज्वाइन करें