भारत के बाद अमेरिका भी पाक आतंकियों को तबाह करने का बना रहा है फुलप्रूफ प्लान

54
US Congressman Scott Perry demanding Pakistan action on eliminating safe haven for terrorists. Hindi News, Hindi Samachar, हिंदी न्यूज़, हिंदी समाचार,US, Scott Perry, Pakistan, China, Washington, Balakot, US Congress, Masud Azhar, Pulwama, Pennsylvania, United Nations Security Council - अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़,अंतर्राष्ट्रीय समाचार

बालाकोट में आतंकियों के खिलाफ भारत की एयरस्ट्राइक देख अमेरिका को भी आई हिम्मत, यूएस संसद में पाकिस्तान के खिलाफ बन रहा है ये प्लान

अमेरिकी सांसद बोले- अब वक्त आ गया है कि पाकिस्तान काे इस बात का अहसास हो

इंटरनेशनल डेस्क, वॉशिंगटनबालाकोट में आतंकियों के ठिकानों पर भारत की एयरस्ट्राइक के बाद अमेरिका में भी आतंक के खिलाफ कार्रवाई की मांग उठने लगी है। अमेरिकी सांसदों ने संसद में पाकिस्तान में आतंकियों के ठिकानों को तबाह करने की मांग उठाई है। यूएस कांग्रेस में सांसद स्कॉट पेरी ने ये प्रस्ताव रखा है।

– अमेरिकी प्रतिनिधि सभा में कांग्रेसी स्कॉट पेरी की ओर से पेश किए गए प्रस्ताव में 14 फरवरी को हुए पुलवामा आतंकी हमले की भी निंदा की गई। इस हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे। इस हमले की जिम्मेदारी पाकिस्तान स्थित आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद (जेएम) ने ली थी।
– पेन्सिलवेनिया के रिपब्लिकन कांग्रेसी स्कॉट पेरी ने प्रस्ताव पेश करने के बाद कहा कि बहुत हो गया, अब पाक सरकार को जवाबदेह ठहराने का समय आ गया है। उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र में आतंकियों को जड़ से मिटाने के अमेरिकी प्रयासों के बावजूद पाकिस्तान के पास आतंकवादियों और आतंकवादी सहानुभूति रखने वालों का लंबा इतिहास है।
– कांग्रेसी स्कॉट पेरी ने कहा कि आतंकी घटनाओं का खामियाजा निर्दोष लोगों को अपनी जान गंवाकर देना पड़ता है। इस तरह के हमलों को रोकने की बजाय पाकिस्तान कट्टरपंथियों को गले लगाता है।
– बता दें कि पुलवामा आतंकी हमले के बाद अमेरिका लगातार पाकिस्तान पर दबाव बना रहा है। इसके अलावा संयुक्त राष्ट्र की सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) में जैश-ए-मोहम्मद के सरगना आतंकी मसूद अजहर को ग्लोबल आतंकी घोषित कराने की कोशिश कर रहा है।
– पिछले दिनों मसूद अजहर को ग्लोबल आतंकी घोषित किए जाने को लेकर यूएनएससी में अमेरिका की ओर से लाए गए प्रस्ताव पर चीन की ओर से वीटो लगाए जाने के बाद अमेरिका फिर से प्रस्ताव लाने की तैयारी में है। इस बीच, चीन ने फिर संकेत दिया है कि इस प्रस्ताव का समर्थन नहीं करेगा। चीन के इस कदम की अमेरिका आलोचना कर रहा है।
– इस बीच पाकिस्तान के खिलाफ अमेरिका ने कार्रवाई शुरू कर दी है। अब प्रस्ताव के जरिए पाकिस्तान पर दबाव बनाया जा रहा है कि वो अपने यहां चल रहे आतंकी कैंपों को बंद करें।

यह भी पढ़ें :- अगवा बेटे को बचाने के लिए मां को करनी पड़ी जिस्मफरोशी,…

यह भी पढ़ें :- लड़कियों से घंटों गंदी बात करता था प्रोफेसर, छात्राओं के लिए…


Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें फेसबुक पर ज्वाइन करें