जवानों की शहादत का इस्तेमाल कर दोबारा सत्ता में लौटना चाहते हैं मोदी

12
manishankar aiyar statement on narendra modi,Senior Congress leader Mani Shankar, Prime Minister Narendra Modi, neech aadmi, Narendra Modi, Lok Sabha Elections 2019 - देश न्यूज़,देश समाचार

जवानों की शहादत का इस्तेमाल कर दोबारा सत्ता में लौटना चाहते हैं मोदी

मणिशंकर ने कहा- मोदी को ‘नीच आदमी’ बताने वाले बयान पर अब भी कायम

नई दिल्ली. कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर ने मंगलवार को अपने ‘नीच आदमी’ वाले बयान को सही ठहराया। अय्यर ने कहा कि ‘‘मैं जो कहना चाहता था, वह मैं लेख में कह चुका हूं। मैं अपने हर शब्द पर कायम हूं। इस पर बहस करने की मेरी कोई इच्छा नहीं है।’’ अय्यर ने ‘राइजिंग कश्मीर’ में लिखे आर्टिकल में ये बातें कहीं।

अय्यर ने यह भी कहा, ‘‘23 मई को देश की जनता उन्हें बाहर कर देगी। मोदी भारत में अब तक के सबसे ज्यादा झूठ बोलने वाले प्रधानमंत्री हैं। मुझे याद है कि 7 दिसंबर 2017 को मैंने क्या कहा था। क्या मैं भविष्यवक्ता नहीं था?’’ अय्यर ने मोदी पर देश विरोधी गतिविधियों को बढ़ावा देने और जवानों की शहादत के जरिए सत्ता में लौटने की कोशिश करने का आरोप लगाया।

यह भी पढ़ें:- 3 महीने पहले दुल्हन बनकर आई बहू से 2 बार रेप, गृहप्रवेश करते ही…..

‘मोदी ने वायुसेना का अपमान किया’
अय्यर ने लिखा, ‘‘मोदी देश विरोधी गतिविधियों को बढ़ावा देने के दोषी हैं। वे गंदे तरीके से चुनाव प्रचार कर रहे हैं। उन्होंने वायुसेना को बदनाम करने के लिए मूर्खतापूर्ण तरीके का सहारा लिया। नेवी के पोत पर अनधिकृत रूप से विदेशियों को ले जाया जाता है।’’ हाल ही में आईएनएस सुमात्रा पर अक्षय कुमार भी गए थे। अक्षय की वहां खिंचवाई फोटो वायरल हुई थीं। अभिनेता ने बीते दिनों स्वीकार किया था कि उनके पास कनाडाई पासपोर्ट है।

‘क्या मोदी वायुसेना अफसरों को मूर्ख समझते हैं’
कांग्रेस नेता ने कहा, ‘‘मैंने हाल ही में सुना कि प्रधानमंत्री (जो दस दिन और इस पद पर रहेंगे) वायुसेना को बादल होने के बावजूद बालाकोट स्ट्राइक का आदेश दिया। एयरफोर्स के अफसरों ने इसे तब तक टालने को कहा था जब तक मौसम ठीक न हो जाए। लेकिन वह (मोदी) अपना 56 इंच का सीना और चौड़ा करना चाहते थे। उन्होंने सोचा कि बादल हमारी वायुसेना के लिए इसलिए ठीक रहेंगे क्योंकि इसके चलते पाक वायुसेना कोई कार्रवाई नहीं कर पाएगी। यह हमारी वायुसेना का अपमान है। उन्हें शायद यह नहीं पता कि रडार कोई टेलिस्कोप नहीं होता जो बादलों के पार न देख पाए। क्या मोदी वायुसेना के सीनियर अफसरों को मूर्ख समझते हैं कि उनके सामने ऐसा अवैज्ञानिक तर्क रखा?’’

यह भी पढ़ें :- पति को था पहले से शक, एक रात कमरे से आती तेज आवाज सुन पहुंचा तो देवर की बाँहों में मिली पत्नी

भाजपा ने साधा निशाना
भाजपा के आईटी सेल प्रमुख अमित मालवीय ने ट्वीट किया, ‘‘वे (अय्यर) शायद यह सोचकर दुखी थे कि सैम पित्रोदा ने सभी का ध्यान खींच लिया। गैर-जिम्मेदार मणिशंकर अय्यर पित्रोदा के पदचिह्नों पर चलते हुए प्रधानमंत्री के लिए बोले गए अपने ‘नीच’ बयान का दोबारा समर्थन कर दिया।’’ भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने तंज कसते हुए अय्यर को गांधी परिवार का रत्न करार दिया।

अय्यर ने गुजरात चुनाव के पहले बयान दिया था
अय्यर ने गुजरात चुनाव के पहले 7 दिसंबर 2017 में कहा था, “जो अंबेडकरजी की सबसे बड़ी ख्वाहिश थी, उसे साकार करने में एक व्यक्ति सबसे बड़ा योगदान था। उनका नाम था जवाहर लाल नेहरू। अब इस परिवार के बारे में ऐसी गंदी बातें करें, वो भी ऐसे मौके पर जब अंबेडकरजी की याद में बहुत बड़ी इमारत का उद्घाटन किया गया। मुझे लगता है कि ये आदमी बहुत नीच किस्म का है, इसमें कोई सभ्यता नहीं है। ऐसे मौके पर इस प्रकार की गंदी राजनीति की क्या आवश्यकता है।

यह भी पढ़ें :- नाबालिग के साथ गैंगरेप का Facebook पर होता रहा Live प्रसारण


Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें फेसबुक पर ज्वाइन करें