लालू के बड़े बेटे ने किया नए मोर्चे का ऐलान, कहा- चापलूसों से घिरे हुए हैं तेजस्वी

47
Patna Bihar News in hindi: Lalu Yadav Elder son Tej Pratap to contest lok sabha election against his father in law Chandrika Rai from Saran Seat, lok sabha chunav 2019,loksabha chunav 2019,लोकसभा चुनाव 2019,lok sabha chunav,loksabha election 2019,loksabha election,lok sabha election 2019,general election 2019,लोकसभा चुनाव 2019,लोक सभा इलेक्शन 2019,लोकसभा इलेक्शन 2019,आम चुनाव2019,चुनाव 2019,चुनाव समाचार,चुनाव न्यूज़,hindi news,aajtak live election special,Tej Pratap, Lok Sabha, Jehanabad, Rabri Devi, Lalu Yadav, Bihar, Chapra, Jehanabad Lok Sabha, Saran, Surendra Yadav

लालू के बड़े बेटे ने किया नए मोर्चे का ऐलान, कहा- चापलूसों से घिरे हुए हैं तेजस्वी; मैंने 2 सीट मांग ली तो कौन सी बड़ी गलती कर दी

यही नहीं रुके तेज प्रताप, ससुर को दी ये चुनौती

पटना (बिहार). लोकसभा चुनाव से ठीक पहले आरजेडी चीफ लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप ने सोमवार को ‘लालू-राबड़ी मोर्चा’ बनाने का ऐलान कर दिया। हालांकि, उनका कहना है कि आरजेडी और उनका मोर्चा एक ही पार्टी है। लेकिन तेज प्रताप ने शिवहर और जहानाबाद लोकसभा सीट की मांग की। उन्होंने अपने ससुर चंद्रिका राय के खिलाफ सारण सीट पर उतरने का ऐलान किया। तेजप्रताप का कहना है कि उनके छोटे भाई तेजस्वी यादव चापलूसों से घिरे हुए हैं। साथ ही बीजेपी पर दोनों भाइयों को आपस में लड़ाने का आरोप लगाया।

‘चुनाव लड़ूंगा और जीतूंगा भी’
मीडिया से बातचीत में तेज प्रताप ने कहा- मैंने एक बार स्टैंड ले लिया तो फिर पलटता नहीं हूं। मैं चुनाव लड़ूंगा और जीतूंगा भी। आरजेडी से चंद्रिका राय को टिकट दिए जाने से नाराज तेजप्रताप ने कहा कि सारण से किसी बाहरी व्यक्ति को टिकट क्यों दिया गया? उन्होंने कहा, मेरी इच्छा है कि मां राबड़ी देवी इस सीट से चुनाव लड़ें। पिता यहां से कई बार चुनाव लड़कर जीते हैं। छपरा हमारी पारंपरिक सीट रही है।

2 सीट मांगकर कौन-सी गलती कर दी: तेजप्रताप
उन्होंने कहा, महागठबंधन से कोई 3 सीट मांग रहा है तो कोई 5। मैंने दो सीट मांग ली, तो कौन सी गलती कर दी। पार्टी में कार्यकर्ताओं की अनदेखी हो रही है। जिसने पार्टी के लिए अपना सबकुछ न्योछावर कर दिया, वैसे लोगों को टिकट नहीं दिया गया। मैंने केवल जहानाबाद और शिवहर में दो कार्यकर्ताओं के लिए टिकट मांगा था। शिवहर पर कैंडिडेट का ऐलान नहीं होने के सवाल पर तेजप्रताप ने कहा, यह सीट मुझे कहां मिली है। मैंने यहां से अंगेश सिंह के लिए टिकट मांगा, लेकिन उनके नाम का ऐलान अभी तक नहीं हुआ। जहानाबाद से चंद्र प्रकाश के लिए टिकट मांगा, लेकिन वहां से सुरेंद्र यादव को उतारा गया।

परिवार को लड़ाने की कोशिश
आरजेडी नेता ने कहा कि तेजस्वी के करीबी लोग उनको बरगला रहे हैं। उन्हें उल्टा-सीधा पढ़ाकर परिवार में फूट डालने की कोशिश कर रहे हैं। वे लोग चाहते हैं कि घरवालों को आपस में लड़ाकर राज किया जाए। तेजप्रताप ने एक बार फिर छोटे भाई तेजस्वी को अर्जुन बताते हुए कहा कि उनका लक्ष्य उसे मुख्यमंत्री बनना है। साथ ही पार्टी में गलत काम करने वालों को बाहर का रास्ता दिखाएंगे।

यह भी पढ़ें :- जया ने कहा- जिसे मैंने भाई कहा, वो मुझे गंदी बात बोलता था

यह भी पढ़ें:-4 नाबालिगों ने 3 साल की बच्ची से किया गैंगरेप, मोबाइल…


Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें फेसबुक पर ज्वाइन करें