शुरू के 24 घंटे तक अभिनंदन को ऐसे किया था टॉर्चर, सामने आई दर्दनाक कहानी

739
Abhinandan to loud music & bright lights to break him in Pakistan,Pakistan, New Delhi, India, Air Force - National News,देश न्यूज़,देश समाचार

बड़ा खुलासा : पहले पाक आर्मी ने अभिनंदन से पूछे सवाल पर सवाल, जब कुछ न उगलवा पाए तो ISI एजेंटों को बुलाया, फिर शुरू टॉर्चर का खूंखार खेल

शुरू के 24 घंटे तक अभिनंदन को ऐसे किया था टॉर्चर, सामने आई दर्दनाक कहानी

नेशनल डेस्क, नई दिल्ली. विंग कमांडर अभिनंदन 60 घंटे तक पाकिस्तान की हिरासत में थे। इस दौरान उन्हें बुरी तरह से टॉर्चर किया गया। द प्रिंट वेबसाइट में छपी एक रिपोर्ट के मुताबिक अभिनंदन को लगातार 24 घंटे तक जगाए रखा गया, सोने नहीं दिया जाता था। वो टूट जाएं…. पाकिस्तान जो चाहता है वो बता दें, इसलिए उनपर तेज रोशनी डाली जाती थी। तेज आवाज में म्यूजिक सुनाए जाते थे। इस सबके बाद भी पाकिस्तान के हाथ कुछ नहीं लगा। बता दें कि मेडिकल जांच में पाया गया है कि पैराशूट से उतरने की वजह से अभिनंदन की पीठ में चोट लग गई है।

यह भी पढ़ें :- पति के सामने गर्भवती महिला के साथ सामूहिक बलात्कार

– सूत्रों के मुताबिक अभिनंदन को टॉर्चर करके के पीछे मकसद उन्हें तोड़ना था। इसीलिए शुरू के 24 घंटे तक उन्हें सोने की परमीशन नहीं थी। अभिनंदन ने पाकिस्तान ने कई अफसरों ने बार-बार सवाल किए, लेकिन उन्होंने पाक अफसरों को कुछ नहीं बताया। इसके बाद ISI एजेंट्स को बुलाया गया। फिर उन्होंने अभिनंदन को टॉर्चर करना शुरू किया। उनके चेहरे पर तेज रोशनी डाली जाती, तेज आवाज में म्यूजिक बजाया जाता, लेकिन अभिनंदन नहीं टूटे। आखिर में पाकिस्तान को मजबूरी में अभिनंदन को छोड़ना पड़ा।

यह भी पढ़ें :- लड़की के खुलासे से कांप जाएंगे आप, बिहार में एक और शेल्टर होम कांड

जल्द उड़ाना चाहते हैं लड़ाकू विमान : 60 घंटे पाकिस्तान की हिरासत में रहने के बाद भारत लौटे विंग कमांडर अभिनंदन जल्द से जल्द दोबारा लड़ाकू विमान उड़ाना चाहते हैं। रविवार को मिलने पहुंचे वायु सेना के शीर्ष अधिकारियों और इलाज कर रहे डॉक्टरों से उन्होंने कहा कि वह जल्द कॉकपिट में लौटना चाहते हैं।

– सेना के एक अधिकारी ने बताया कि उन्हें जल्द कॉकपिट में भेजने के प्रयास किए जा रहे हैं। अभिनंदन का दो दिन से सेना के रिसर्च अस्पताल में इलाज चल रहा है। कूलिंग डाउन प्रक्रिया के तहत उनके कई टेस्ट भी किए गए हैं। रविवार को सुरक्षा एजेंसियों ने भी उनसे पूछताछ की। अभिनंदन को 17 अप्रैल को पहला भगवान महावीर अहिंसा पुरस्कार मिलेगा। अखिल भारतीय दिगंबर जैन महासमिति ने यह पुरस्कार शुरू किया है। अभिनंदन को 2.51 लाख नगद और प्रशस्ति पत्र दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें :- चाचा से अवैध संबंध के चलते बेटी ने पिता को उतारा…

यह भी पढ़ें :- 9 फायदे जिनकी वजह से रोजाना करना चाहिए सेक्स

यह भी पढ़ें :- दर्द ऐसा कि नींद के 3 इंजेक्शन देने के बाद भी…

यह भी पढ़ें :- मुंहबोले मामा ने किया भांजी से रेप, मां-बाप की मौत के…


Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें फेसबुक पर ज्वाइन करें