World Cup 2019: ये हो सकता है महेंद्र सिंह धोनी का विदाई मैच

101
mahendra singh dhoni announce retirement,एमएस धोनी, भारतीय क्रिकेट टीम, आईसीसी क्रिकेट विश्व कप 2019, बीसीसीआई, एमएस धोनी संन्यास, क्रिकेट, खेल, MS Dhoni, Indian Cricket Team, ICC Cricket World Cup 2019, BCCI, MS Dhoni Sannyas, Cricket, Sports

World Cup 2019: ये हो सकता है महेंद्र सिंह धोनी का विदाई मैच

टीम इंडिया को दो बार विश्व चैंपियन बनाने वाले कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के विश्व कप के बाद संन्यास लेने की अटकलें लगाई जा रही हैं। जानिए धोनी कब खेलेंगे अपने करियर का आखिरी अंतरराष्ट्रीय मैच।

बर्मिंघम: ऐसी संभावना है कि भारतीय टीम का मौजूदा विश्व कप में अंतिम मैच महेंद्र सिंह धोनी के लिये भी आखिरी मुकाबला हो सकता है। अगर भारतीय टीम फाइनल्स के लिये क्वालीफाई करती है और लॉर्ड्स के ऐतिहासिक मैदान पर 14 जुलाई को विश्व कप में जीत हासिल करती है तो भारतीय क्रिकेट के महान क्रिकेटरों में से एक के लिये यह आदर्श विदाई होगी। बीसीसीआई के एक वरिष्ठ अधिकारी ने नाम नहीं बताने की शर्त पर पीटीआई से कहा, ‘महेंद्र सिंह धोनी के बारे में आप कुछ नहीं कह सकते। लेकिन ऐसी संभावना नहीं है कि वह इस विश्व कप के बाद भारत के लिए खेलना जारी रखेंगे। उन्होंने तीनों प्रारूपों से कप्तानी छोड़ने का फैसला भी अचानक ही लिया था तो इस बारे में भविष्यवाणी करना बहुत मुश्किल है।’



यह भी पढ़ें : – बेटे ने बाप के साथ मिलकर किया दो बहनों के साथ दुष्कर्म, कर दी हत्या, पांच साल बाद हुए गिरफ्तार

मौजूदा चयन समिति के अक्टूबर में होने वाली आम सालाना बैठक तक रहने की संभावना है और वह निश्चित रूप से अगले साल ऑस्ट्रेलिया में होने वाले आईसीसी विश्व टी20 को देखते हुए बदलाव की प्रक्रिया शुरू कर देगी। हालांकि भारत के यहां विश्व कप सेमीफाइनल के लिए क्वालीफाई करने के बाद न तो टीम प्रबंधन और न ही बीसीसीआई इस मुद्दे पर बात करना चाहता है।

यह भी पढ़ें : – जूस में नशीली दवा मिलाकर 24 साल की युवती से गैंगरेप



जहां तक रन जुटाने की बात है तो धोनी ने विश्व कप में सात मैचों में 93 से ज्यादा के स्ट्राइक रेट से 223 रन बनाए हैं, लेकिन इससे उनकी स्ट्राइक रोटेट करने की अक्षमता नहीं दिखायी देती। हालांकि कुछ ने उनकी बल्लेबाजी में इच्छा की कमी और कुछेक ने एक फिनिशर के रूप में उनकी कम होती काबिलियत की ओर इशारा किया।
सचिन तेंदुलकर और सौरव गांगुली ने भी उनके बल्लेबाजी करने के रवैये की आलोचना की। इससे टीम प्रबंधन अच्छी तरह से जानता है कि वे अपने ‘प्रिय कप्तान’ को विश्व कप से आगे नहीं खिला सकते हैं। उनका मैदान पर योगदान अपार है जो हर प्रेस कांफ्रेंस में हर खिलाड़ी के उनकी तारीफ करने से साफ दिखता है।

यह भी पढ़ें : – महिलाओं को बेरहमी से नोचते हैं यहां हर तीसरा आदमी है बलात्कारी

यह भी पढ़ें : पति के सामने गर्भवती महिला के साथ सामूहिक बलात्कार

यह भी पढ़ें : 2 लड़कों ने मुझे सेक्स करते हुए देख लिया अब वे…


Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें फेसबुक पर ज्वाइन करें